जाधवपुर विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में छात्रा ने फाड़ी नागरिकता कानून की कॉपी


कोलकाता
नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ तरह-तरह से विरोध जारी है। अब जाधवपुर विश्वविद्यालय की एक छात्रा ने दीक्षांत समारोह में अपनी डिग्री ग्रहण करने के दौरान सीएए की कॉपी फाड़कर विरोध जताया। छात्रा ने कहा कि इस विवादास्पद कानून का विरोध करने का उसका यह तरीका है।

खुद को कला विभाग की छात्रा बताने वाली देबोस्मिता चौधरी ने कहा कि उसने सीएए के दस्तावेज को कूड़े में डालने का इसलिए चुनाव किया क्योंकि यह सच्चे नागरिक को अपनी नागरिकता साबित करने के लिए बाध्य करता है। इस दौरान मंच पर कुलपति, उपकुलपति और रजिस्ट्रार मौजूद थे।

'विश्वविद्यालय का अपमान नहीं, डिग्री मिलने पर है गर्व'
छात्रा ने कहा, 'कोई संशय नहीं रहना चाहिए। मैं जाधवपुर विश्वविद्यालय के प्रति कोई असम्मान नहीं दिखा रही हूं। इस पसंदीदा संस्थान से यह डिग्री मिलने पर मैं गर्व महसूस कर रही हूं लेकिन मैंने सीएए के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराने के लिए इस मंच का चुनाव किया। मेरे साथी दीक्षांत समारोह स्थल के द्वार पर धरने पर बैठे हैं।'

देबोस्मिता चौधरी ने कहा कि उसके कुछ दोस्तों ने सीएए के विरोध में कुलपति से डिग्री लेने से मना कर दिया। एक अन्य विद्यार्थी अर्कोप्रोभो दास ने कहा कि उसके 25 सहपाठी अपनी डिग्रियां लेने मंच पर नहीं पहुंचे। दिन में प्रदर्शनकारियों ने दीक्षांत समारोह में शिरकत के लिए पहुंचे पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को विश्वविद्यालय में प्रवेश करने से रोका था।


Popular posts
क्या सुहागरात पर होने वाला सेक्स सहमति से होता है?
Image
कोरोना लॉकडाउन में जरूरतमंद गरीब परिवारों को राहत 1000 रुपयों के बाद 1500 रुपये की और मिलेगी सहायता
Image
गहलोत बोले- धार्मिक आधार पर लोगों को देश से बाहर करने के लिए सरकार खुद अफवाह फैला रही
Image
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग पर्याप्त मात्रा में वेंटिलेटर एवं टेस्ट किट का इंतजाम करके रखें-हैल्थ केयर वर्कर्स हमारे अग्रिम योद्धा-बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखा जाए-मुख्यमंत्री -अशोक गहलोत-
Image
निर्भया कांड के दोषी की दया याचिका गृह मंत्रालय को मिली, जल्द भेजी जाएगी राष्ट्रपति के पास
Image