नागरिकता संशोधन कानून: पीएम मोदी पर अब ममता का पलटवार, जनता बता देगी कौन सही और कौन गलत


नई दिल्ली
नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा है कि पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और ममता बनर्जी समेत कई नेताओं ने पहले इसके पक्ष में बोला था। पीएम मोदी ने कहा कि पहले मनमोहन, ममता और सीपीएम के प्रकाश करात जैसे नेताओं ने पक्ष में राय दी थी।


नागरिकता संशोधन कानून पर विपक्ष के विरोध प्रदर्शनों पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'वोट बैंक की राजनीति करने वाले और खुद को भारत का भाग्य विधाता मानने वाले आज जब देश की जनता द्वारा नकार दिए गए हैं तो इन्होंने अपना पुराना हथियार निकाल लिया है- बांटों, भेद करो और राजनीति का उल्लू सीधा करो।' 


इस बीच ममता बनर्जी ने भी पीएम मोदी की टिप्पणी पर पलटवार किया है। ममता बनर्जी ने कहा, 'मैं जो कहा वह भी पब्लिक फोरम में है और आपने जो कहा है, वह भी जनता के सामने है।' पश्चिम बंगाल की सीएम ने नागरिकता संशोधन ऐक्ट और एनआरसी पर पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के बयानों में अंतर को लेकर भी निशाना साधा। 


मोदी, शाह के बयानों में अंतर पर ममता के सवाल
ममता ने कहा, 'पीएम नरेंद्र मोदी सार्वजनिक तौर पर गृह मंत्री अमित शाह के बयान को खारिज कर रहे हैं। आखिर कौन भारत के मूल विचार को विभाजित करने का काम कर रहा है।' जनता यह तय करेगी कि कौन सही है और कौन गलत है।