नाथद्वारा में बालिका शिक्षा प्रोत्साहन कार्यक्रम आयोजित-सफलता का कोई शोर्टकट नहीं हैं, कड़ी मेहनत से ही इसे अर्जित किया जा सकता -विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी

जयपुर। राजसमन्द जिले के नाथद्वारा के गोवर्धन राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी की एक ओर पहल पर बालिका शिक्षा प्रोत्साहन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम राजस्थान विधानसभा की ओर से चलाया जा रहा है। जिसमें कक्षा 10वीं तथा 12वीं में प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण बालिकाओं को एक हजार रुपये का चेक, बालिका की माता को एक साड़ी तथा परिवार के लिए एक कम्बल प्रदान की किया जा रहा है।

 

बालिका शिक्षा से ही सभ्य समाज का निर्माण

 

समारोह को संबोधित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी ने कहा कि बालिका शिक्षा को बढ़ावा देकर ही एक सभ्य, शिक्षित, संस्कारित समाज का निर्माण किया जा सकता है। उन्हाेंने कहा कि जिले के युवा जिला कलक्टर ने मेहनत तथा पूर्ण लगन से पढ़ाई की तो आज आई.ए.एस. पद पर विराजित हैं। इन्हीं में से कुछ बालिकाएं कड़ी मेहनत करेंं तो यहां से भी आई.ए.एस., आई.पी.एस., डॉक्टर, इन्जिनियर बनकर इस क्षेत्र सहित अपने परिवार-समाज का नाम रोशन करेंंगी। उन्होंने बालिकाओं को सफलता के गुर सिखाते हुए कहा कि सर्वप्रथम अपना लक्ष्य निर्धारित करें तथा उसे पाने के लिए अथक प्रयास करें। सफलता का कोई शोर्टकट नहीं हैं, कड़ी मेहनत से ही इसे अर्जित किया जा सकता है। 

 

उच्च शिक्षा प्राप्त कर सुनहरे भविष्य का निर्माण करें

 

जिला कलक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल ने कहा कि 12वीं के बाद भी उच्च शिक्षा में भी कड़ी मेहनत करें और शिक्षा में किसी भी प्रकार की अड़चन आने पर जिला प्रशासन से सम्पर्क करें। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष की इस पहल की प्रशंसा करते हुए कहा कि डॉ. जोशी की शिक्षा के प्रति सजगता व विशेष रूप से बालिका शिक्षा के प्रति यह नवाचार उनकी संवेदनशीलता को दर्शाता है। 

 

जिला शिक्षा अधिकारी सोहनलाल रेगर ने स्वागत भाषण देते हुए जानकारी दी कि नाथद्वारा क्षेत्र की लगभग 800 प्रथम श्रेणी उत्तीण बालिकाओं को एक-एक हजार रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। समारोह में 183 बालिकाओं को एक हजार रुपये का चेक, बालका की माँ को एक साड़ी तथा एक कम्बल प्रदान की गई।