कोरोना का असर / खाटूश्याम मंदिर 31 मार्च तक के लिए बंद, कई मंदिरों में की गई ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था


जयपुर. कोरोनावायरस के कहर के चलते गुरुवार को सीकर के खाटूश्याम मंदिर में 31 मार्च तक दर्शन बंद रहेंगे। गुरुवार को दर्शन करने पहुंचे लोगों को भी बाहर ही रोक लिया गया। इससे पहल बुधवार को पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर भी बंद कर दिया गया। ब्रह्मा मंदिर में नियमित रूप से पूजा अर्चना होगी तथा सुबह मंगलाआरती, शाम को संध्या व रात्रि को शयन आरती की जाएगी। श्रद्धालु आरती लाइव देख सकें। इसके लिए मंदिर के बाहर एलईडी लगाई गई है।


वहीं, नाथद्वारा में श्रीनाथजी और कांकरोली स्थित प्रभु द्वारकाधीश मंदिर में 31 मार्च तक आठ में से चार झांकियों के दर्शन में श्रद्धालुओं को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। श्रीनाथजी मंदिर में 348 साल में पहली बार भक्तों को दिनभर में होने वाली आठ झांकियों में से चार झांकी के दर्शनों (मंगला, राजभोग, आरती तथा शयन) में पहले आओ पहले पाओ के आधार पर सिर्फ 50 श्रद्धालुओं को ही प्रवेश दिया जाएगा। इसके बाद मंदिरों के पट बंद हो जाएंगे। इसी तरह उदयपुर शहर के प्रसिद्ध जगदीश मंदिर, अस्थल मंदिर, श्रीनाथजी मंदिर में 50 से ज्यादा भक्त एक जगह मौजूद रहकर भगवान के दर्शन नहीं कर सकेंगे। मेहंदीपुर बालाजी ट्रस्ट द्वारा भी भगवान के दर्शन 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिए हैं।


अजमेर दरगाह में हौज से वुजू पर रोक


अजमेर दरगाह में हौज से वुजू पर रोक लगा दी गई है। अब नल से ही वुजू कर सकेंगे। चित्तौड़गढ़ स्थित प्रसिद्ध सांवलियाजी मंदिर में दोपहर 12 से ढाई बजे के बीच आवाजाही बंद कर दी गई है। जैसलमेर के रामदेवरा मंदिर में दिन में तीन बार दर्शन की अनुमति हाेगी। पहले ऐसी कोई सीमा तय नहीं थी। वहीं गोविन्द देव जी के महंत अंजन कुमार गोस्वामी ने श्रृद्धालुओं से ऑनलाइन ही ठाकुरजी के दर्शन करने तथा मंदिर आने की स्थिति में पूर्ण सतर्कता बरतने की अपील की है।


जयपुर में होने वाले गणगौर समेत 7 बड़े मेले-उत्सव भी निरस्त



  • 21 मार्च को सीकर में होने वाला शेखावाटी पर्यटक उत्सव भी रद्द कर दिया गया है।

  • 27-28 मार्च को जयपुर का गणगौर मेला। शाहपुरा में होने वाला गणगौर उत्सव।

  • 27-29 मार्च तक उदयपुर का मेवाड़ उत्सव

  • नागौर में 27 से 2 अप्रैल तक चलने वाला बलदेव पशु मेला भी निरस्त किया गया है।

  • करौली के श्रीमहावीरजी मेले के कार्यक्रम रद्द। कैलादेवी लक्खी मेला स्थगित।