एनसीपी विधायक रोहित पवार ने पीएम मोदी को किया 'फोन' और बोले- नाम तो सुना ही होगा


मुंबई
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के नेता और महाराष्ट्र की कर्जत विधानसभा सीट से विधायक रोहित पवार की एक 'फोन कॉल' काफी चर्चा में है। रोहित पवार महाराष्ट्र के संगमनेर में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। इस दौरान उनके साथ मंच पर शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे भी मौजूद थे। इसी मंच से रोहित पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक 'कॉल' किया और कहा कि मोदीजी किसानों पर थोड़ा ध्यान दीजिए और पॉलिसी में भी कुछ बदलाव कीजिए।

चौंकिए मत! रोहित पवार ने ना तो ऐसा कोई कॉल किया और ना ही पीएम मोदी से इस तरीके से कोई बात की। दरअसल, इस कार्यक्रम में सिंगर अवधूत गुप्ते ने मंच पर मौजूद सभी नेताओं को कोई एक कॉल करके कुछ कहने का टास्क दिया था। इसी टास्क के तहत रोहित पवार ने प्रधानमंत्री मोदी को कथित कॉल की और कुछ ऐसी बातें कहीं, जो उनके हिसाब से जनता प्रधानमंत्री मोदी से कहना चाहती है।

रोहित पवार ने स्टेज पर माइक पकड़े-पकड़े कान पर फोन लगाकर कहा, 'नमस्ते मोदीजी, रोहित पवार बोल रहां हूं। नाम तो सुना ही होगा। कुछ नहीं साहब, थोराट साहब ने (कांग्रेस नेता और मंत्री बाला साहब थोराट) संगमनेर मे प्रोग्राम रखा था। वहीं पर ही हूं, बहुत से युवा यहां पर हैं। महाराष्ट्र में अब महाविकास आघाड़ी सत्ता में है। पिछले पांच साल में जो विकास महाराष्ट्र में नहीं हुआ था, वह अब हम करके दिखाएंगे।'

आपको बता दें कि संगमनेर के अमृतवाहिनी कॉलेज में रोहित पवार और गठबंधन के कई युवा नेता युवाओं के साथ बात कर रहे थे। इस दौरान शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे मंच पर और मंत्री बाला साहब थोराट मंच के नीचे पहली पंक्ति में बैठे थे। रोहित पवार ने आगे कहा, 'युवाओं को रोजगार मिलने के लिए जो इंडस्ट्रियल पॉलिसी है, वह पिछले कुछ साल में अच्छी नहीं रही है। आपसे अपेक्षा करते हैं कि उसमें आवश्यक बदलाव होंगे। अगर आप यह बदलाव करते हैं तो युवाओ कों रोजगार मिलेगा। किसानो की तरफ भी ध्यान दिजीएगा। यहां पर हम सब तो खुश हैं लेकिन केंद्र सरकार की तरफ से पॉलिसी में कुछ बदलाव चाहिए। आपके चार साल ही बचे हैं। अपेक्षा करते हैं कि आप ध्यान देंगे और जनता की आवाज सुनेंगे। आप बिजी होंगे, आपका ज्यादा समय नहीं लेना चाहता। धन्यवाद!'


Popular posts
क्या सुहागरात पर होने वाला सेक्स सहमति से होता है?
Image
कोरोना लॉकडाउन में जरूरतमंद गरीब परिवारों को राहत 1000 रुपयों के बाद 1500 रुपये की और मिलेगी सहायता
Image
गहलोत बोले- धार्मिक आधार पर लोगों को देश से बाहर करने के लिए सरकार खुद अफवाह फैला रही
Image
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग पर्याप्त मात्रा में वेंटिलेटर एवं टेस्ट किट का इंतजाम करके रखें-हैल्थ केयर वर्कर्स हमारे अग्रिम योद्धा-बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखा जाए-मुख्यमंत्री -अशोक गहलोत-
Image
निर्भया कांड के दोषी की दया याचिका गृह मंत्रालय को मिली, जल्द भेजी जाएगी राष्ट्रपति के पास
Image