विदेशी नागरिकों को ठगने वाले दो कॉल सेंटर्स से 23 युवक गिरफ्तार, जगुआर गाड़ी सहित 25 कंम्पयूटर व उपकरण जब्त


जयपुर. शहर कमिश्नरेट पुलिस ने फोन कॉल्स के जरिए लोन देने का झांसा देकर विदेशी नागरिकों से ठगी करने वाले कॉल सेंटर गिरोह का मंगलवार को बड़ा खुलासा किया है। यह कार्रवाई जयपुर पुलिस की जिला स्पेशल टीम, श्याम नगर और शिप्रापथ थाना पुलिस की संयुक्त टीमों ने की। जिन्होंने दो कॉल सेन्टर में दबिश देकर 23 युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मौके से 25 कंप्यूटर, 3 लैपटॉप, सर्वर, एलईडी, 25 मोबाइल, जगुआर सहित लग्जरी कारें व अन्य उपकरण बरामद किए हैं।


पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि दो दिन पहले सीएसटी टीम के कांस्टेबल महिपाल गुर्जर को सूचना मिली थी कि श्याम नगर के रानी सती नगर में चल रहे कॉल सेन्टर से फोन कॉल्स के जरिए विदेशी नागरिकों से ठगी की जा रही है। तब टीमें गठित करके देर रात दोनों कॉल सेंटर्स पर छापा मारा गया। 


कॉल सेंटर्स से इन्हें किया गिरफ्तार


डीसीपी योगेश दाधीच ने बताया कि श्याम नगर स्थित कॉल सेन्टर करण सिंह शेखावत, कुनाल शर्मा, मोहम्मद सोयब पटेल, अल्पेश नांढा, धीरज गुप्ता, मीत भट्‌ट, रविन्द्र द्विवेदी, नरेन्द्र पुरोहित, मोहम्मद साजिद, लालाराम, हलुना दारलोन मिजोरम, लोकेंद्र सिंह श्रीगंगानगर, राहुल खान, खुशवंत सोनी, हिमांशु सोनी, शुभांशु प्रताप सिंह और अनूप यादव है। 


इसी तरह, शिप्रापथ स्थित कॉल सेंटर्स से शाहनवाज अहमद गिलानी उर्फ डेविड मोरिसन यूपी के इलाहाबाद, जितेन्द्र मिश्रा निवासी झोटवाड़ा, अनु कुंजुमोन निवासी मुहाना, पुलकित भाटिया निवासी जवाहर नगर, आशीष उप्रेती निवासी मुहाना, मोहम्मद हैदर सिद्दकी निवासी ब्रह्मपुरी और मुख्तार अंसारी एमडी मार्ग के रहने वाले है।


ऐसे करते है ठगी की वारदात
एडिशनल पुलिस कमिश्नर अशोक नगर गुप्ता ने बताया कि कॉल सेंटर संचालक यलो पेज से विदेशी नागरिकों का डेटा इकट्‌ठा करते है। यहां से कॉल करके लोन अप्रुवल करने के नाम पर बीट कॉइन के रूप में चैक से पैसे जमा करवा लेते है। चैक जमा होने के बाद दलालों के जरिए कमिशन देकर पैसे ले लेते है। श्याम नगर के रानीसती नगर में टेन इनफोटेक आईटी सोल्यूशन के नाम से मकान के बेसमेंट में कॉल सेन्टर खोल रखा था। 


इस गिरोह का सरगना करण सिंह शेखावत व कुनाल शर्मा है। आरोपी कम्प्यूटर सिस्टम में आई बीम सॉफ्टवेयर अपलोड कर इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के माध्यम से विदेशी नागरीकों को लोन देने के लिए वॉइस मैसेज छोड़ देते है। जहां से ऑनलाइन रिकॉल आने पर कम ब्याज दर पर लोन देने का झांसा देकर डॉलर, वॉलमार्ट, गुगल प्ले व स्टीम आदि के जरिए ठगी कर लेते है।



कॉल सेंटर का आईटी हेड भी गिरफ्तार, दोनों संचालक फरार, जगुआर कार जब्त
शिप्रापथ इलाके में बदमाश एक मकान में स्काई आई-नेट सोल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड के नाम से कॉल सेन्टर चला रहे थे। पूछताछ में सामने आया कि एक्स लाईट इंटरनेट कॉलिंग के जरिए अमेरिकन सिटीजन का डाटा लेकर इंटरनेट कॉलिंग के जरिए लोगों को वहां की फाइनेंस कंपनियों के नाम से ही लोन प्रोसेस के बारे में समझाते है।


एडवांस इन स्कैनर स्काई-पे एक्सलाइट,आई बीम के माध्यम से स्थानीय फाइनेंस कंपनियों के फर्जी लोन अप्रुवल लैटर तैयार करते है। इस कॉल सेन्टर के संचालक नागौर निवासी महमूद खान व रमजान खान बताया जा रहा है। इसका आईटी हैड शाहनवाज उर्फ डेविड है। जिसने जगुआर खरीद रखी है। 


Popular posts
क्वारेंटाइन के उल्लंघन पर प्रषासन को अलर्ट में सहयोगी-‘‘राज कोविड इन्फो एप’’,
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
बैंकों के केवाईसी फॉर्म्स में ग्राहकों को अपने धर्म का करना पड़ सकता है उल्लेख
Image
शहर में 101 मरीजों की मौतें; एसएमएस हॉस्पिटल में डॉक्टर व लैब टेक्निशियनों के संक्रमित होने से 5441 जांचें पेंडिंग
Image
 संयुक्त राष्ट्र-सुरक्षा परिषद में सीट सुरक्षित करने के लिए भारत ने कैंपेन लॉन्च किया, विदेश मंत्री बोले- वैश्विक महामारी के समय हमारी भूमिका अहम
Image