बेंगलुरु: कोरोना ने बदला ट्रेंड, सेक्स वर्कर्स अब ऑनलाइन मुलाकात कर कमा रहीं पैसा


बेंगलुरु
कोरोना महामारी के संक्रमण के चलते साइबर सिटी बेंगलुरु में सेक्स वर्कर्स पर भी भारी मार पड़ी है। कोरोना के कारण अधिकांश कस्टमरों ने सेक्स वर्करों से दूरी बना ली है। ऐसे में कुछ टेक-सेवी सेक्स वर्कर्स ने वीडियो कॉलिंग और टेलीफोन के जरिए अपना व्यापार ऑनलाइन कर लिया है। इस दौरान कस्टमरों से बकायदा ई-वॉलेट के जरिए पैसे भी ले रही हैं।टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक, 39 वर्षीय संजेश थॉमस (बदला नाम) बेंगलुरु में Zoom पर वीडियो कॉल के माध्यम से अपने खास दोस्त के साथ बातचीत कर रहा है। उसने बताया कि उसका दोस्त जो कि कमर्शियल सेक्स वर्कर्स है, उसके साथ समय बिताने के लिए अक्सर वह शहर आया करता था, लेकिन लॉकडाउन के चलते आना-जाना बंद है। ऐसे में हम ऑनलाइन संपर्क में रहते हैं। उसने अपनी जूम आईडी और पासवर्ड साझा किया है और मुझे इसमें शामिल होने के लिए एक स्पेशल समय दिया है। उसके अनुसार हम आपस में बातचीत करते हैं।


ऑनलाइन मुलाकात के लिए एक घंटे के आधार पर पैसे
उसने बताया कि ग्राहकों से ऑनलाइन मुलाकात के लिए एक घंटे के आधार पर पैसे लिए जाते हैं और भुगतान ई-वॉलेट के माध्यम से किया जाता है। थॉमस के दोस्त ने कहा कि कुछ सेक्स वर्कर जैसे रोज़ाना कई ग्राहकों को स्ट्रीम करती हैं और स्पेशल ग्रुप के लिए अधिक शुल्क लेती हैं। हेंपुर के एक ट्रांसजेंडर रूपा (जो कि कुछ गे डेटिंग ऐप सहित विभिन्न प्लेटफॉर्म पर सक्रिय है) ने कहा कि ज्यादातर ग्राहक हमें धोखा देना चाहते हैं क्योंकि हमारा काम बैन है। इसलिए मैं वीडियो चैट शुरू करने से पहले पेटीएम या Google Pay के माध्यम से 30 मिनट के ऑनलाइन मुलाकात के लिए एक हजार रुपये एडवांस में ले लेती हूं। 


Popular posts
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image
कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती 17 साल के लड़के की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, इसके संपर्क में आए 5 लोगों के सैंपल लिए
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image
राजस्थान में कोरोना की रफ्तार / पहले 78 दिनों में आए 5 हजार केस, अब 20 दिन में ही 10 हजार के पार पहुंचा आंकड़ा
Image