लाॅकडाउन के दौरान मोबाइल ओपीडी यूनिट सेवा बनी वरदान  शहर के छह क्षेत्र में लगे शिविरों में 696 रोगियों को मिला उपचार



जयपुर,


आमजन के इलाज के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की मोबाइल ओपीडी यूनिट सेवा के अन्तर्गत बुधवार को शहर के 6 क्षेत्र में शिविर लगाए गए और चिकित्सकों ने रोगियों का उपचार कर निशुल्क दवाइयां दीं। मोबाइल ओपीडी यूनिट के माध्यम से लोगों को चिकित्सकीय परामर्श, उपचार व निशुल्क दवा की सेवाएं अनवरत रूप से उपलब्ध कराई जा रही हैं।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जयपुर प्रथम डॉ. नरोत्तम शर्मा ने बताया कि बुधवार को जिले के 6 शहरी क्षेत्र में लगाए शिविरों में 366 पुरूष, 267 महिलाओं और 63 बच्चों का मोबाइल ओपीडी यूनिट सेवा के तहत उपचार किया गया। इस दौरान 3 गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की जांच की गई। शहरी क्षेत्र मे लगे शिविर में 84 लोग खांसी से पीड़ित पाए गए। वहीं 7 बुखार, 25 मधुमेह और 24 हाइपर टेंशन की बीमारी से ग्रसित पाए गए। इन सभी रोगियों का उपचार कर निशुल्क दवा उपलब्ध करवाई गई है।
सीएमएचओ जयपुर प्रथम डॉ0 शर्मा ने बताया कि कोविड 19 संक्रमण और लॉक डाउन को देखते हुए लॉकडाउन के कारण आमजन को अस्पताल पहंुचने में परेषानी संभव है, ऐसे क्षेत्रों के लोगों को प्राथमिक चिकित्सा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से राज्य सरकार की ओर से मोबाइल ओपीडी यूनिट वाहन सेवा शुरू की गई है। इसके तहत विभाग की एमएमवी व एमएमयू द्वारा आमजन को प्राथमिक चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराई जा रही है।
उन्हांेने बताया कि शहरी क्षेत्र  मे  6 मोबाइल ओपीडी यूनिट से गांधी काॅलोनी मे 153, तेलीपाड़ा वार्ड न0 77 में 105, इन्दिरा बस्ती वार्ड न0 81 मे 193, नाहरगढ़ मे 102, सुभाष चैक मे 71, ईदगााह मे 72 रोगियों सहित कुल 696 रोगियों की जांच एवं उपचार किया गया. तथा 3 गर्भवती महिलाओं को एएनसी सेवा भी प्रदान की गई। 


Popular posts
कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती 17 साल के लड़के की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, इसके संपर्क में आए 5 लोगों के सैंपल लिए
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image
भारत-चीन में हुई लेफ्टिनेंट जनरल लेवल बातचीत
Image
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image