7 साल की बच्ची को 10 रूपए व टॉफी का लालच देकर किया अगवा, फिर दुष्कर्म कर फरार


दौसा(सिकंदरा). थाना इलाके में सगाई में गई सात साल की एक बच्ची को 10 रूपए और टॉफी का लालच देकर दुष्कर्म कर फरार हुए आरोपी को पुलिस ने गुरूवार को जोधपुर से गिरफ्तार कर लिया। दौसा एसपी प्रहलाद कृष्णियां ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी पूनीराम उर्फ पून्या सैनी (19) निवासी गीजगढ़, थाना सिकंदरा, जिला दौसा है।


जानकारी के अनुसार वह 13 नवंबर को राजोरियों की ढाणी में एक सगाई समारोह में गया था। वहीं, सात साल की पीड़िता बच्ची भी परिवार के साथ आई थी। तब शराब के नशे में धुत पूनीराम की बच्ची को देखकर नियत बिगड़ गई। उसने मासूम बच्ची को 10 रूपए का नोट दिखाते हुए बाजार से टॉफी दिलाने का झांसा दिया।


तब बच्ची भी उसकी बातों में आ गई। इसके बाद आरोपी पूनीराम उस बच्ची को अपने साथ बहलाकर ले गया। सूनसान जगह पर बच्ची से दुष्कर्म किया। फिर उसे लहूलुहान हालत में छोड़कर भाग निकला। दूसरी तरफ, बच्ची के गायब होने पर परिजनों ने उसे तलाश किया। तब वह सूनसान जगह रोते बिलखते नजर आई।


तब उसके पिता ने सिकंदरा थाने में मुकदमा दर्ज करवाया। बच्ची की हालत गंभीर होने पर उसे बांदीकुई राजकीय अस्पताल में भर्ती करवाया। तब एसपी कृष्णियां ने एएसपी अनिल सिंह चौहान के निर्देशन में टीम गठित की। पड़ताल में फरार आरोपी पूनीराम के जोधपुर में रामनगर कॉलोनी निवासी अपने रिश्तेदार के यहां ठहरा होने की जानकारी मिली।


तब थानाप्रभारी राजपाल सिंह व एसआई लालसिंह के नेतृत्व में टीम ने मुल्जिम पूनीराम को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में सामने आया कि फरारी के दौरान उसने शराब पी। फिर फुटपाथ पर रात बिताई। इसके बाद बचने के लिए जोधपुर भाग निकला। पुलिस ने खून से सने आरोपी के कपड़े उसके कमरे से बरामद कर लिए है। जिन्हें वह बदलकर जोधपुर गया था। उससे पूछताछ की जा रही है।