धोखेबाजी, अविश्वास से फीकी पड़ी विवाह की रौनक और पति ने कर दी पत्नी की हत्या


नई दिल्ली
दो सालों तक गुपचुप रिलेशनशिप में रहे और अपने-अपने परिवारों को दोनों ने भनक तक नहीं लगने दी। फिर शादी की और उसके बाद महज 7 महीने में ही रिश्ते इस कदर बिगड़े की कहानी का अंत पत्नी की खौफनाक हत्या के साथ हुआ। प्यार से तकरार तक पहुंची यह खौफनाक कहानी है, नैन्सी शर्मा और साहिल चोपड़ा की। 10 नवंबर को जब नैन्सी को पति साहिल अपने कजन शुभम और ड्राइवर बादल के साथ लॉन्ग ड्राइव पर ले गया तो उसे (नैन्सी को) बिल्कुल भी शक नहीं था कि पति ने यह यात्रा उसकी जीवन यात्रा खत्म करने के लिए आयोजित की है। आरोप है कि साहिल ने पत्नी नैन्सी को हरियाणा के पानीपत ले जाकर उसके सिर में गोली मार दी और शव को झाड़ियों में फेंक दिया। पुलिस की कड़ी पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूल भी कर लिया।


इसी साल मार्च में हुई थी दोनों की शादी
27 मार्च, 2019 की वह तारीख थी जब साहिल पत्नी नैन्सी के साथ अपने घर पहुंचा और घरवालों को बताया कि दोनों ने शादी कर ली है। परिवार को धीरे-धीरे यह भी पता चला कि दोनों पश्चिमी दिल्ली के एक फ्लैट में दो वर्षों से साथ रह रहे थे। दोनों रोहिणी के एक पब में मिले थे जहां नैन्सी इवेंट मैनेजर की जॉब कर रही थी। साहिल के परिवार का दावा है कि नैन्सी ने खुद के अनाथ होने का नाटक किया था और एक बाल्य गृह का सर्टिफिकेट भी दिखाया था।


चोपड़ा परिवार के दावे
साहिल की मां रोशी चोपड़ा ने कहा, 'हमने यह सोचकर नैन्सी को अपनी बहू स्वीकार कर लिया कि उसका कोई रखवाला नहीं है।' उन्होंने कहा, 'हमने जल्दबाजी में उनके लिए रिस्पेशन का आयोजन किया ताकि लोग विवाह को लेकर हमसे सवाल पूछना बंद कर दें।' चोपड़ा परिवार ने नवविवाहित जोड़े को गोवा के लिए हनीमून ट्रिप का खर्च भी दिया।

लेकिन, जल्द ही शादी का जायका फीका पड़ने लगा और दोनों लड़ने लगे, खासकर रुपये-पैसों के मामले में। चोपड़ा परिवार ने कहा कि नैन्सी के माता-पिता ने कभी उनसे संपर्क नहीं किया। उनका कहना है कि मर्डर केस में गिरफ्तार शुभम ने उन्हें एक औरत का नंबर भी दिया जिसे नैन्सी ने अपनी चाची बताया था। चोपड़ा परिवार के मुताबिक, पहली बार उसे नैन्सी के परिवार के होने का पता तब चला जब वह अपने पिता की फोन कॉल को नजरअंदाज करने लगी।


शर्मा परिवार का दावा
हालांकि, नैन्सी के पिता संजय शर्मा का दावा है कि नैन्सी को ससुराल में प्रताड़ित किया जा रहा था। उन्होंने कहा, 'मेरी बेटी घटना से कुछ दिन पहले हमसे मिलने आई थी। तब उसने कहा था कि उसे चोपड़ा परिवार टॉर्चर कर रहा है। वे कहते रहते हैं कि उन्होंने रिसेप्शन पर बहुत पैसे खर्च किए हैं।' नैन्सी का परिवार डीडीयू हॉस्पिटल के पीछे हरिनगर के एक किराये के मकान में रहता है। संजय शर्मा ने कहा कि नैन्सी ने पहली बार दो साल पहले साहिल का परिचय वर्कप्लेस के अपने मित्र के रूप में करवाया था। बाद में उन्हें पता चला कि दोनों ने एक मंदिर में विवाह कर लिया है। उन्होंने बताया कि विवाह के बाद उन्होंने अपने घर पर औपचारिक शादी समारोह का आयोजन किया था। तब तक उन्हें यही पता था कि उनकी बेटी नैन्सी सहेलियों के साथ पीजी में रहती है।


नैन्सी के पिता ने कहा, 'मैं हरियाणा में एक फैक्ट्री चलाता हूं। नैन्सी के अलावा मेरी दो बेटियां और एक बेटा है। नैन्सी की सैलरी से ही परिवार चलता था। उसने 12वीं तक पढ़ाई करने के बाद रेस्त्रां में जॉब कर ली थी। जब उसने मुझे कहा कि वह साहिल से प्यार करती है और उसके साथ शादी कर ली है तो मैंने कोई आपत्ति नहीं की।'


शर्मा का दावा है कि 11 नवंबर को एक रिश्तेदार ने साहिल की मां से बात की थी जिन्होंने कहा कि नैन्सी अपने पति साहिल के साथ कहीं गई है। उन्होंने बताया, 'जब हमारे पास कुछ दिनों तक कोई कॉल नहीं आई तो मुझे चिंता हुई। नैन्सी की सहेली और उसकी मां को कहा गया कि दोनों फ्रांस में हैं जबकि नैन्सी के पास पासपोर्ट नहीं था।' 


शर्मा का दावा है कि 22 नवंबर को चोपड़ा परिवार ने उनकी साली से कहा था कि नैन्सी और साहिल घर से 20 लाख रुपये लेकर भाग गए हैं और उन पर पुलिस केस कर दिया गया है। उन्होंने कहा, 'जब मुझे साहिल के परिवार से संतोषजनक जवाब नहीं मिला तो मैंने 23 नवंबर को पुलिस में शिकायत दर्ज करवा दी।' 


Popular posts
क्वारेंटाइन के उल्लंघन पर प्रषासन को अलर्ट में सहयोगी-‘‘राज कोविड इन्फो एप’’,
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
बैंकों के केवाईसी फॉर्म्स में ग्राहकों को अपने धर्म का करना पड़ सकता है उल्लेख
Image
शहर में 101 मरीजों की मौतें; एसएमएस हॉस्पिटल में डॉक्टर व लैब टेक्निशियनों के संक्रमित होने से 5441 जांचें पेंडिंग
Image
 संयुक्त राष्ट्र-सुरक्षा परिषद में सीट सुरक्षित करने के लिए भारत ने कैंपेन लॉन्च किया, विदेश मंत्री बोले- वैश्विक महामारी के समय हमारी भूमिका अहम
Image