दो जिलों में वांटेड 50 हजार का ईनामी बदमाश व उसका साथी गिरफ्तार


अलवर. प्रदेश के अलवर व भरतपुर में आतंक का पर्याय बने 50 हजार रूपए के इनामी बदमाश सुरेश गुर्जर आरसी और उसके साथी 5 हजार रूपए के इनामी बदमाश ज्वाला सिंह को अलवर पुलिस ने भरतपुर पुलिस के सहयोग से अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार कर लिया है। गुरुवार को अलसुबह अलवर व भरतपुर जिले की थाना लक्ष्मणगढ़, खेड़ली गोविंदगढ़, कठूमर, बड़ौदामेव, नौगांवा, उद्योग नगर, रामगढ़, राजगढ़ एवं क्यूआरटी व सीआईयू टीम लक्ष्मणगढ़ ने मिलकर इस बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया।


डिप्टी एसपी के गनमैन ने कमरे के बाहर से कुंदी लगाई


महानिरीक्षक पुलिस जयपुर रेंज एस. सेंगाथिर ने बताया कि गुरुवार की अलसुबह कांस्टेबल राजेश कुमार की सूचना पर गठित टीम ने कुख्यात अपराधी सुरेश गुर्जर के गांव आरसी में उसके घर को घेर लिया। खिड़की से अंदर देखने पर सुरेश हथियारों में कारतूस भर रहा था। तब वृत्ताधिकारी लक्ष्मणगढ़ के गनमैन जितेंद्र ने उसके कमरे के बाहर से कुंदी लगा दी। दूसरे कमरे में अचानक घुसकर टीम ने ज्वाला सिंह को अवैध हथियार सहित काबू कर लिया।
 


सरेंडर करने को कहा तो गैस सिलेंडर में विस्फोट करने की धमकी


आईजी सेंगाथिर ने बताया कि इसके बाद वृताधिकारी लक्ष्मणगढ़ ने सुरेश गुर्जर को सरेंडर करने को कहा तो उसने गैस सिलेंडर फेंककर विस्फोट करने की धमकी देते हुए कहा कि मैं अकेला नहीं मरूंगा दो तीन पुलिसवालों को साथ लेकर मरूंगा। मैं अपनी पत्नी को भी मार दूंगा और उसका इल्जाम तुम लोगों पर लगा दूंगा।


इसी दरमियान बड़ौदामेव थाने के कॉस्टेबल रविंद्र व तारेश ने सुरेश के कमरे का दरवाजा तोड़ दिया ओर कांस्टेबल राजेश कुमार यादव व रामगोपाल ने असीम साहस का परिचय देते हुए हथियारों से लैस बदमाश सुरेश को काबू में कर लिया।


एसपी परिस देशमुख ने बताया कि पुलि टीम ने इनामी मुलजिम सुरेश गुर्जर पुत्र बल्लो उर्फ बलराम गुर्जर (43) निवासी आरसी थाना नगर जिला भरतपुर तथा ज्वाला सिंह पुत्र दर्शन सिंह सिख (25) निवासी गुलाल कुंड थाना मथुरा गेट, जिला भरतपुर को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से दो लोड़ेड़ देसी कट्टा 315 बोर, एक देसी बंदूक लोडेड 315 बोर, दो बिंडोलया व 56 कारतूस 315 बोर  तथा एक बिना नंबरी अपाचे मोटरसाइकिल बरामद की है।


सुरेश के खिलाफ लूट, हत्या, फायरिंग, डकैती के 42 केस दर्ज


पुलिस अधीक्षक अलवर परिस देशमुख ने बताया कि सुरेश गुर्जर व ज्वाला सिंह ने पूछताछ में सैकड़ों से अधिक भैंस चोरी, वाहन चोरी, लूट, डकैती की वारदातों के बारे में भी बताया है जिनके प्रकरण आतंक के कारण दर्ज नहीं कराए गए। दोनों बदमाश पूर्व में कई बार पुलिस पार्टी पर फायरिंग कर चुके हैं। बदमाश सुरेश के विरुद्ध अलवर व भरतपुर जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में 42 प्रकरण हत्या, लूट, डकैती, चोरी, मारपीट, आर्म्स एक्ट इत्यादि में दर्ज है।


इसके अलावा गिरफ्तार ज्वाला सिंह के विरुद्ध 5 प्रकरण दर्ज है। इन दोनों बदमाशों को पकड़ने के इस अभियान के लिए महानिरीक्षक पुलिस एस सेंगाथिर ने पुलिस अधीक्षक अलवर परिस देशमुख के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विशनाराम विश्नोई एवं वृताधिकारी लक्ष्मणगढ़ भूपेंद्र कुमार शर्मा के नेतृत्व में विभिन्न थाना क्षेत्र व क्यूआरटी तथा सीआईयू की एक विशेष टीम गठित की थी।


Popular posts
क्वारेंटाइन के उल्लंघन पर प्रषासन को अलर्ट में सहयोगी-‘‘राज कोविड इन्फो एप’’,
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
बैंकों के केवाईसी फॉर्म्स में ग्राहकों को अपने धर्म का करना पड़ सकता है उल्लेख
Image
शहर में 101 मरीजों की मौतें; एसएमएस हॉस्पिटल में डॉक्टर व लैब टेक्निशियनों के संक्रमित होने से 5441 जांचें पेंडिंग
Image
 संयुक्त राष्ट्र-सुरक्षा परिषद में सीट सुरक्षित करने के लिए भारत ने कैंपेन लॉन्च किया, विदेश मंत्री बोले- वैश्विक महामारी के समय हमारी भूमिका अहम
Image