राजस्थान: पुलिसकर्मी रखते थे दाढ़ी, अलवर एसपी ने निरस्त की अनुमति


जयपुर
राजस्थान के अलवर पुलिस जिले में तैनात नौ मुस्लिम पुलिसकर्मियों को दाढ़ी रखने की मंजूरी के फैसले को वापस ले लिया गया है। पुलिस अधीक्षक अनिल पारिस देशमुख ने एक आदेश जारी कर जिले में तैनात नौ मुस्लिम पुलिसकर्मियों को दाढ़ी रखने की छूट को राज्य सरकार के नियमानुसार तुरंत प्रभाव से वापस ले लिया है।


अलवर पुलिस प्रशासन ने कुल मिलाकर 32 पुलिसकर्मियों को ड्यूटी के दौरान दाढ़ी रखने की अनुमति दे रखी थी। देशमुख ने बताया कि दाढ़ी रखने की इजाजत को इसलिए वापस लिया गया है ताकि पुलिसकर्मी निष्पक्षता के साथ काम कर सके और निष्पक्ष दिखें। उन्होंने बताया कि इस आदेश का मुख्य उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी निष्पक्षता के साथ करें।


उन्होंने कहा, 'पुलिसकर्मियों को ना केवल निष्पक्षता के साथ काम करना चाहिए बल्कि उनको निष्पक्ष दिखना चाहिए। यदि इस आदेश से किसी को पीड़ा है तो वह इस संबंध में अपना प्रार्थना पत्र दे सकता है उस पर उचित कार्रवाई की जाएगी।' उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के प्रावधनों के अनुसार विभाग का मुखिया पुलिसकर्मियों को दाढ़ी रखने की इजाजत प्रदान कर सकता है।


सरकार के प्रावधानों के अनुसार 32 पुलिसकर्मियों को स्वीकृति प्रदान की गई थी। नौ पुलिसकर्मियों की स्वीकृति को वापस ले लिया गया है, जबकि शेष पुलिस कर्मियों को दी गई स्वीकृति जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि हालांकि इस फैसले पर पुनर्विचार किया जा सकता है और पीड़ित अपना आवेदन दे सकते हैं। 


Popular posts
क्या सुहागरात पर होने वाला सेक्स सहमति से होता है?
Image
ग्राम विकास अधिकारी को झूठी सूचना देना पडा भारी-पंचायती राज विभाग भीण्डर  ने दिये एक वार्षिक वेतन वृद्धि रोकने के आदेश
Image
योनि में डालने से पहले हम डिल्डो पर थूकते हैं, क्या कोराना वायरस फैलने का खतरा है?
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image