भरतपुर-पुलिस और डकैतों के बीच देर रात जंगल में मुठभेड़, अंतराज्यीय गैंग के दो ईनामी बदमाश गिरफ्तार


भरतपुर. जिले की रूपबास थाना पुलिस की रविवार देर रात को घाटौली गांव के जंगल में डकैतों से मुठभेड़ हुई। जिसमें दोनों तरफ से फायरिंग की गई। आखिरकार पुलिस टीम ने मुठभेड़ के बाद अन्तर्राज्यीय गिरोह के 2 सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। इन दोनों डकैतों पर 10-10 हजार रुपये का इनाम भी घोषित था। भरतपुर एसपी हैदर अली जैदी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी डकैत रामलखन गुर्जर (22) निवासी चैंची का पुरा थाना मनियां जिला धौलपुर तथा आरोपी अर्जुन गुर्जर (26) को एक अवैध कट्टा व दो जिन्दा तथा एक खाली कारतूस 315 बोर सहित गिरफतार किया है। 


जैदी ने बताया कि पिछले दो महीने से भरतपुर जिले की साइबर सैल में पदस्थापित हैड कानि जोगेन्द्रसिंह की सूचना पर गठित टीम ने गिरोह के सदस्यों को चिन्हित कर रविवार को मुखबिर की सूचना पर गांव घाटौली के जंगल में इस कार्रवाई को अंजाम दिया। इनकी गैंग में धौलपुर व भरतपुर जिले के विभिन्न क्षेत्रों के अलावा उत्तरप्रदेश व मध्यप्रदेश के बदमाश अलग-अलग डकैतियों में इनके सक्रिय सहयोगी रहते हैं। डकैती में प्राप्त सोने-चांदी के जेवरात ये लोग अलग-अलग स्थानों पर सुनारों को बेच देते हैं। 



पूछताछ में इन वारदातों का हुआ खुलासा-
     कस्वा रूपबास की दोनों डकैतियों के खुलासे के उपरान्त कस्वा उच्चैन की दो डकैतीयां तथा कस्वा बयाना की एक डकैती में इस गिरोह के शामिल होने के संकेत मिले हैं। इसके अलावा माह जून की 22 तारीख को पुलिस थाना दिहोली जिला धौलपुर में एक सुनार के घर पर डाली गयी डकैती भी इन लोगों के द्वारा कबूल की गई है। जिला आगरा में ट्रक लूट में, जिला मुरैना व भिन्ड के अलावा जिला धौलपुर के थाना बसेडी में हुई डकैती में भी इस गिरोह के विभिन्न सदस्यों की सक्रिय भूमिका सामने आ रही है। पूछताछ में इनके अलावा काफी वारदातों के खुलासे होने की उम्मीद है।
रूपबास कस्बे में 18 अप्रैल व 10 जून,2019 को हुई डकैतियों की सनसनीखेज वारदातों के बाद भरतपुर रेंज डीआईजी लक्ष्मण गौड़ व एसपी भरतपुर हैदर अली जैदी के निकट पर्यवेक्षण में एएसपी एडीएफ सुरेश कुमार खींची व सीओ बयाना खींवसिंह के निर्देशन व एसएचओ रूपबास दीपक ओझा के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई थी।