CAA: प्रियंका वाड्रा ने फिर सरकार पर बोला हमला, देश में चल रहा तानाशाही का तांडव


नई दिल्ली
नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शनों का दौर जारी है। बिहार में विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल ने बंद का आह्वान किया है वहीं कांग्रेस की तरफ से प्रियंका गांधी वाड्रा ने शनिवार को बयान जारी कर सत्तारूढ़ बीजेपी पर आरोप लगाया है कि यह जनता की आवाज दबाने के लिए देश में तानाशाही का तांडव कर रही है। उन्होंने एकबार फिर जोर देकर बोला कि एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून देश की गरीब जनता के खिलाफ है। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि कांग्रेस पार्टी शांति और सौहार्द बनाने की अपील करती है।


संविधान के खिलाफ है NRC, CAA'
एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून भारत के संविधान के मूल आत्मा के खिलाफ है। किसी भी कीमत पर बाबा साहेब आंबेडकर के संविधान पर हमला नहीं होने दिया जाएगा। जनता इस हमले के खिलाफ सड़क पर उतर कर संविधान के लिए लड़ रही है लेकिन सरकार बर्बर दमन और हिंसा पर उतारू है।


नोटबंदी की तरह लाइन में लगेंगे लोग'
कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने कहा कि बीजेपी सरकार ने जैसे नोटबन्दी में गरीबों को लाइन में खड़ा किया था अब एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून के नाम पर लोगों को लाइन में खड़ा करेगी, एक 'कट ऑफ डेट' तय करेगी और हर एक भारतीय को अपनी भारतीयता सिद्ध करने के लिए उस डेट के पहले का कोई मान्य दस्तावेज पेश करना पड़ेगा। इससे ज्यादातर गरीब और वंचित लोगों को प्रताड़ित किया जाएगा।

अवैध गिरफ्तारियां निंदनीय, हिंस में मर रहे लोग
उन्होंने प्रदर्शन के दौरान हुई गिरफ्तारियों को अवैध ठहराते हुए इसकी निंदा की। प्रियंका ने कहा कि छात्रों, बुद्धिजीवियों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, वकीलों और पत्रकारों की अवैध रूप से गिरफ्तारियां निंदनीय हैं। पूरे देश समेत उत्तर प्रदेश के हर जिले से लोगों को गिरफ्तार करके पुलिस कहां ले जा रही है, किसी को पता नहीं है। यह लोकतंत्र के लिए काला दिन है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में दो दिन से कई सामाजिक-राजनीतिक कार्यकर्ताओं को पुलिस अवैध हिरासत में रखी हुई है। उनके परिजनों को उनकी गिरफ्तारी की कोई खबर नहीं दी गई। मीडिया के माध्यम से दिल दहला देने वाली खबर मिल रही है कि उनको पुलिस हिरासत में मारा पीटा जा रहा है। जगह-जगह चल रहे प्रदर्शन और मार्च में पुलिस लोगों को हिंसा के लिए उकसा रही है। उत्तर प्रदेश में पुलिसिया हिंसा में 15 लोगों के मारे जाने की खबर है।

उल्लेखनीय है कि प्रियंका शुक्रवार को प्रदर्शन कर रहे लोगों से मिलने इंडिया गेट पहुंची थीं। उस दौरान भी उन्होंने कहा था कि यह कानून गरीबों के खिलाफ है। वहीं, उनकी मां और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने लाइव संदेश जारी कर केंद्र सरकार पर हमले किए थे और कहा था कि उन्हें जनता की आवाज सुननी चाहिए।


Popular posts
क्वारेंटाइन के उल्लंघन पर प्रषासन को अलर्ट में सहयोगी-‘‘राज कोविड इन्फो एप’’,
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
बैंकों के केवाईसी फॉर्म्स में ग्राहकों को अपने धर्म का करना पड़ सकता है उल्लेख
Image
शहर में 101 मरीजों की मौतें; एसएमएस हॉस्पिटल में डॉक्टर व लैब टेक्निशियनों के संक्रमित होने से 5441 जांचें पेंडिंग
Image
 संयुक्त राष्ट्र-सुरक्षा परिषद में सीट सुरक्षित करने के लिए भारत ने कैंपेन लॉन्च किया, विदेश मंत्री बोले- वैश्विक महामारी के समय हमारी भूमिका अहम
Image