गुजरे जमाने की बात है वीएचपी का राम मंदिर मॉडल-डॉ रामविलास दास वेदांती


अयोध्या
श्रीराम जन्मभूमि न्यास के सदस्य और पूर्व सांसद डॉ रामविलास दास वेदांती ने विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के राम मंदिर मॉडल को गुजरे जमाने का बता दिया। उन्होंने कहा वीएचपी ने जब मंदिर मॉडल का निर्माण किया था, वह जमाना बदल गया है। उसे बीते 30 से 35 साल हो गए हैं। उन्होंने कहा दिल्ली में भव्य मंदिर का खाका खींचा जा रहा है।
वेदांती ने कहा कि आने वाले समय में विश्व का सबसे बड़ा मंदिर रामलला का होगा इसलिए नेताओं को विभिन्न जगहों पर मंदिरों को देखने के लिए भेजा गया है। उन्होंने बताया कि गुजरात के कच्छ जिले के मांडवी तहसील में शंखेश्वर मंदिर और वृंदावन का प्रेम मंदिर की दिव्यता और भव्यता सबसे अच्छी दिखी। उन्होंने इसी तरह के मंदिर अयोध्या में भी बनाने का प्रस्ताव दिया है।

वेदांती ने किया रामलला का दर्शन
फैसला आने के बाद पहली बार श्रीराम जन्मभूमि का दर्शन कर वेदांती ने कहा कि ट्रस्ट को लेकर संतों में कोई आपसी मतभेद नहीं है। सभी चाहते हैं अयोध्या में भव्य और दिव्य मंदिर का निर्माण श्रीरामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास की अगुवाई में हो। उन्होंने कहा कि नया ट्रस्ट तय करेगा कि मंदिर कैसा और किसे बनाना है? उन्होंने कहा कि रामजन्मभूमि में तराशे गए पत्थर और शिलाएं लगाई जाएंगी। उनकी उपेक्षा नहीं होगी।

रिव्यू याचिका नहीं होगी स्वीकार
डॉ रामविलास दास वेदांती ने रिव्यू पिटिशन दाखिल करने वाले लोगों को नसीहत देते हुए कहा कि 5 जजों ने रामजन्मभूमि के पक्ष में निर्णय दे दिया है। इसमें वर्तमान मुख्य न्यायाधीश भी शामिल थे। उन्हें जजमेंट के बारे में सब जानकारी है। वेदांती ने दावा किया कि रिव्यू याचिका स्वीकार नहीं होगी।


Popular posts
स्कूली दिनों के तीन दोस्तों के हाथ में जल, थल और नभ.. की सुरक्षा की कमान
Image
भारत-चीन में हुई लेफ्टिनेंट जनरल लेवल बातचीत
Image
 स्पेशल फ्लाइट: सरकार को फटकार / मिडिल सीट भरने पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- सरकार को एयरलाइंस की बजाय लोगों की सेहत की चिंता करनी चाहिए
Image
रेलवे की बेदर्द अपील- श्रमिक ट्रेनों में गर्भवती महिलाएं, बच्चे सफर न करें; सवाल- क्या इन ट्रेनों में लोग सैर पर निकले हैं? बच्चों और महिलाओं को छोड़कर मजदूर घर कैसे लौटेंगे?
Image
केन्द्र सरकार वहन करें श्रमिकों व मजदूरों को अपने-अपने राज्यों में पहुंचाने का खर्चा: पायलट
Image