हैदराबाद एनकाउंटर पर मुख्यमंत्री गहलोत बोले- कानून का राज स्थापित रहना चाहिए


जयपुर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शुक्रवार सुबह बारां पहुंचे। इस दौरान मंत्री शांति धारिवाल भी उनके साथ मौजूद रहे। इस दौरान हैदराबाद एनकाउंटर पर अशोक गहलोत ने कहा कि कानून का राज स्थापित रहना चाहिए। अब एकाउंटर क्यों हुआ। क्या परिस्थिति थी। वो पुलिस बताएगी। जो कुछ भी हो रहा अच्छा नहीं हो रहा देश के अंदर। 


गहलोत ने कहा कि कहीं रेप पीड़ित को जिंदा जलाया जा रहा है। देश में जो माहौल बना। लंबे अरसे से कहा जा रहा है कि देश में तनाव का, भय का और हिंसा का माहौल है। यही कारण है कि मनमोहन सिंह को कहना पड़ा कि देश की अर्थव्यवस्था बर्बाद हो रही है। सामाजिक ताना-बाना नष्ट हो रहा है। आप सोच सकते हो। नौकरी लग नहीं रही है, बल्कि जा रही है।


गहलोत ने कहा कि सोशल मीडिया के जरिए से नई पीढ़ी क्या सीख रही है। रेप और गैंगरेप की घटना बढ़ती जा रही है। समय रहते केंद्र सरकार को कुछ करना चाहिए। जैसे मॉब लिचिंग के बारे में पीएम ने कहा एंटीसोशल एलिमेंट है। वही भावना रख के पीएम को आगे आना पड़ेगा।


धारीवाल बोले- न्याय देना तो न्यायपालिका का काम


वहीं राजस्थान सरकार में मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि न्याय देना तो न्यायपालिका का काम है। शूट में तो जैसे सोहराबुद्दीन को शूट किया फिर उसके नतीजे भुगतने पड़े। उनका गिरफ्तार कर न्यापालिका के सामने प्रस्तुत करना चाहिए था। पुलिस यही कहेगी मुल्जिम भाग रहा था। वो भाग रहा था तो आप क्या कर रहे थे। खड़े थे। मुल्जिम को पकड़कर उसकी ट्रायल होगी। जिसके बाद सजा मिलेगी। दुष्कर्म के आरोप पर फांसी की सजा है।  


Popular posts
स्कूली दिनों के तीन दोस्तों के हाथ में जल, थल और नभ.. की सुरक्षा की कमान
Image
जिला प्रशासन की शेयरिंग-केयरिंग हेल्पलाइन निभा रही है बेटे जैसा फर्ज लॉकडाउन में बन रही है बुजुर्गो के बुढ़ापे की लाठी
Image
भारत-चीन में हुई लेफ्टिनेंट जनरल लेवल बातचीत
Image
 स्पेशल फ्लाइट: सरकार को फटकार / मिडिल सीट भरने पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- सरकार को एयरलाइंस की बजाय लोगों की सेहत की चिंता करनी चाहिए
Image
रेलवे की बेदर्द अपील- श्रमिक ट्रेनों में गर्भवती महिलाएं, बच्चे सफर न करें; सवाल- क्या इन ट्रेनों में लोग सैर पर निकले हैं? बच्चों और महिलाओं को छोड़कर मजदूर घर कैसे लौटेंगे?
Image