माता-पिता ने दो बच्चों के साथ खाया जहर, दंपती की मौत


उदयपुर. शहर के एक होटल में आराम करने की बात कहकर रुके गुजरात के एक परिवार ने जहर खाकर सामूहिक आत्महत्या का प्रयास किया। दंपती ने अपने बेटे और बेटी को जहर खिलाकर खुद जहर खा लिया। घटना का पता तब चला, जब उनकी बेटी तड़पती हुई सीढ़ियों से रेंगकर होटल के रिसेप्शन पर पहुंची। होटल कर्मियों ने कमरे में जाकर देखा तो दंपती की मौत हो चुकी थी। बेटे और बेटी को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


एसपी कैलाश चंद्र विश्नोई ने बताया कि मृतक नैनेश हंसमुखदास शाह अपनी पत्नी व बेटा बेटी के साथ बुधवार दोपहर करीब 12:30 बजे होटल हर्ष पैलेस पहुंचे थे। खुद को टूरिस्ट बताते हुए होटल में ठहरकर करीब डेढ़ घंटे आराम करने की बात कही। होटल मालिक तखत सिंह शेखावत के बेटे जितेंद्र सिंह ने बताया कि दोपहर करीब 1 बजे नैनेश की बेटी कमरे से रेंगते हुए बाहर आई। वह सीढियों से रेंगते हुए उतरने लगी। वह हॉस्पिटल-हॉस्पिटल चिल्ला रही थी।


होटल के स्टाफ ने बच्ची को संभाला और कमरे में पहुंचकर देखा तो सामने आया कि बैड पर नैनेश व उसकी पत्नी का शव पड़ा था, जबकि उनका बेटा कमरे में फर्श पर पड़ा तड़प रहा था। वहां फर्श व बिस्तरों पर उल्टियां काफी बिखरी पड़ी थी। मौके पर मिले आधार कार्ड के आधार पर पुलिस ने मृतकों की पहचान गुजरात में साबरकांठा स्थित मोडासा, लिमड़ा चौक पर महता वाड़ा कॉलोनी के रहने वालों के रूप में की। उसने अपने आधार कार्ड की फोटोकॉपी होटल में ठहरते वक्त जमा कराई थी। उदयपुर पुलिस गुजरात में स्थानीय पुलिस से संपर्क कर मृतक के परिजनों से संपर्क साध रही है। जिससे उनके खुदकुशी के कारण सामने आ सकें।


Popular posts
स्कूली दिनों के तीन दोस्तों के हाथ में जल, थल और नभ.. की सुरक्षा की कमान
Image
जिला प्रशासन की शेयरिंग-केयरिंग हेल्पलाइन निभा रही है बेटे जैसा फर्ज लॉकडाउन में बन रही है बुजुर्गो के बुढ़ापे की लाठी
Image
भारत-चीन में हुई लेफ्टिनेंट जनरल लेवल बातचीत
Image
 स्पेशल फ्लाइट: सरकार को फटकार / मिडिल सीट भरने पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- सरकार को एयरलाइंस की बजाय लोगों की सेहत की चिंता करनी चाहिए
Image
रेलवे की बेदर्द अपील- श्रमिक ट्रेनों में गर्भवती महिलाएं, बच्चे सफर न करें; सवाल- क्या इन ट्रेनों में लोग सैर पर निकले हैं? बच्चों और महिलाओं को छोड़कर मजदूर घर कैसे लौटेंगे?
Image