नागरिकता ऐक्ट: मऊ में हिंसक प्रदर्शन के बाद कर्फ्यू, अलीगढ़ समेत कई जिलों में इंटरनेट बंद


मऊ
नागरिकता संशोधन ऐक्ट के खिलाफ यूपी के अलीगढ़ और राजधानी लखनऊ में हुए उग्र प्रदर्शनों की चिंगारी पूर्वांचल के मऊ जिले तक पहुंच गई है। मऊ जिले में सोमवार को नागरिकता संशोधन ऐक्ट के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन हुए हैं। सोमवार दोपहर मऊ में हजारों प्रदर्शनकारियों ने जहां सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया, वहीं शाम को भीड़ में शामिल कुछ लोगों ने यहां वाहनों में तोड़फोड़ और आगजनी की है। मऊ में हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद जिले में कर्फ्यू लगाया गया है।


शुरुआती जानकारी के अनुसार, नागरिकता संशोधन ऐक्ट के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कुछ लोगों ने नगर कोतवाली के मिर्जाहादिपुरा चौक के पास पुलिस पर पथराव किया था। इस दौरान पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागकर भीड़ को नियंत्रित करने की कोशिश की। उग्र प्रदर्शनकारियों ने यहां कई वाहनों में तोड़फोड़ की और यूपी परिवहन निगम की रोडवेज बस को भी नुकसान पहुंचाया। लोगों ने एक दर्जन से अधिक वाहनों में तोड़फोड़ की। डीएम और एसएसपी समेत कई अधिकारी मौके पर
मऊ जिले में हुए हिंसक प्रदर्शनों के बीच डीएम, एसएसपी समेत जिले के तमाम अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। तनाव की स्थिति को देखते हुए जिले में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। साथ ही पड़ोसी जिलों से भारी संख्या में पुलिस, आरएएफ और पीएसी के जवानों को बुलाया गया है।


पश्चिम उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट, कई जिले में इंटरनेट बंद
उत्तर प्रदेश के तमाम जिलों में हो रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच प्रदेश सरकार ने पश्चिमी यूपी में हाई अलर्ट जारी कर दिया है। नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ रविवार को हुए प्रदर्शनों के बाद अलीगढ़ में मंगलवार तक इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं। इसके अलावा सहारनपुर और कासगंज जिले में भी इंटरनेट बंद कर दिया गया है। तनाव की स्थिति के बीच मेरठ, सहारनपुर, कासगंज, अलीगढ़ जिलों में पुलिस और अर्धसैनिक बलों की कंपनियों की तैनाती की गई है।


Popular posts
क्वारेंटाइन के उल्लंघन पर प्रषासन को अलर्ट में सहयोगी-‘‘राज कोविड इन्फो एप’’,
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
बैंकों के केवाईसी फॉर्म्स में ग्राहकों को अपने धर्म का करना पड़ सकता है उल्लेख
Image
शहर में 101 मरीजों की मौतें; एसएमएस हॉस्पिटल में डॉक्टर व लैब टेक्निशियनों के संक्रमित होने से 5441 जांचें पेंडिंग
Image
 संयुक्त राष्ट्र-सुरक्षा परिषद में सीट सुरक्षित करने के लिए भारत ने कैंपेन लॉन्च किया, विदेश मंत्री बोले- वैश्विक महामारी के समय हमारी भूमिका अहम
Image