नागरिकता कानून: कानपुर, मुजफ्फरनगर समेत यूपी के कई इलाकों में बवाल, आगजनी, पत्थरबाजी


मेरठ
नागरिकता कानून को लेकर शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के कानपुर, मेरठ, फिरोजाबाद, गोरखपुर और मुजफ्फरनगर समेत कई अन्य जिलों में एकबार फिर से उपद्रव शुरू हो गया है। फिरोजाबाद के नालवंद चौराहे में प्रदर्शन के दौरान एक उपद्रवी को गोली लग गई। आनन-फानन उसे ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया। उधर, कानपुर के अलग-अलग हिस्सों में उपद्रवियों द्वारा पथराव किया गया। पुलिस को स्थितियों पर नियंत्रण के लिए उपद्रवियों पर लाठीचार्ज करना पड़ा। मुजफ्फरनगर और मेरठ में भी जुमे की नमाज के बाद काली बांधकर विरोध जताया गया। मुजफ्फरनगर में पथराव और आगजनी की भी ख़बर है।


बिजनौर में भी एक पुलिकर्मी को गोली लगी है, जिसे कि इलाज के लिए रिफर कर दिया गया है। इसकी पुष्टि बिजनौर के अडिशनल एसपी सिटी लक्ष्मी निवास मिश्रा ने की है।

कानपुर में सड़कों पर उपद्रवी
कानपुर स्थित हलीम मुस्लिम कॉलेज से यतीम खाने की तरफ मुंह पर कपड़ा बांधे हुए भीड़ पहुंची। नमाज के बाद युवकों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। तकरीबन 1 लाख की भीड़ ने पूरे शहर में तांडव शुरू कर दिया। कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई है। इसके साथ ही ये उपद्रवी फूलबाग की तरफ बढ़ रहे हैं। कानपुर के ही ग्वालटोली में 100-150 लड़कों ने भी प्रदर्शन किया है। कानपुर के बाबूपुरवा के बगाही और मछरिया क्षेत्र से भी प्रदर्शन और आगजनी की ख़बरें सामने आईं। यहां प्रदर्शन के दौरान 13 लोग घायल हुए, जिनमें से 9 लोगों को गोली लगी है। घायलों को इलाज के लिए अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। कानपुर में प्रदर्शनकारियों की वजह से जाम की स्थिति पैदा हो गई। बढ़ते बवाल को देखते हुए डीआईजी पीएसी को कानपुर भेज दिया गया है। स्थितियों पर काबू पाने के लिए एक प्लाटून पीएसी को तैनात किया गया है।


कानपुर एसएसपी ने दी प्रतिक्रिया
कानपुर में हुए हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस ने 25 लोगों को गिरफ्तार किया है। एसएसपी कानपुर अनंत देव का कहना है कि यह घटना सुनियोजित ढंग से की गई। गोली लगने के सवाल पर उनका कहना है कि आपसी फायरिंग में लोगों को गोली लगी है।


फिरोजाबाद में फूंकी गईं गाड़ियां
उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में भी उपद्रवियों ने नागरिकता कानून को लेकर प्रदर्शन शुरू कर दिया है। यहां पर उपद्रवियों ने पुलिस की गाड़ियों के साथ-साथ आम लोगों की को आग के हवाले कर दिया। पुलिस इन उपद्रवियों पर काबू पाने की हर संभव कोशिश में जुटी हुई है। इस घटना में कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। उपद्रवियों ने यहां पुलिस चौकी को भी जलाने का प्रयास किया।


अयोध्या में माहौल तनावपूर्ण
उधर, अयोध्या में धारा 144 का उल्लंघन कर जुलूस निकाला गया। इस जुलूस में भारी भीड़ नजर आई। भीड़ के साथ ही आसपास के क्षेत्र में माहौल तनावपूर्ण हो गया। जानकारी के मुताबिक, पहले ज्ञापन देने पर प्रशासन से सहमति बनी थी लेकिन सबरजीत मंडी से कुछ नवयुवक नारे लगाते हुए निकल पड़े और जुलूस को कसाईबाड़े तक ले गए। भारी पुलिस के बीच जुलूस निकलकर फिर वापस लौट चुका है।


बहराइच में शुरू हुआ बवाल
बहराइच में नमाज के बाद नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे लोगों ने पुलिस टीम पर पथराव कर दिया। पथराव की वजह से बचाव के लिए पुलिस टीम ने भीड़ पर की फायरिंग व आंसू गैस के गोले दागे। इसके साथ ही मौके पर तनाव की स्थित पैदा हो गई है। साथ ही घटना स्थल पर भारी फोर्स तैनात कर दी गई है। यह पूरी घटना घंटाघर क्षेत्र के पास की है।


गोरखपुर में भी हिंसक प्रदर्शन
देश के अलग-अलग हिस्सों में चल रहे प्रदर्शनों के बीच उत्तर प्रदेश के गोरखपुर स्थित नक्खास में भी नमाज अदा करने के बाद से नमाजी प्रदर्शन करने लगे। प्रदर्शनकारी रेटी से नक्खास चौक की तरफ बढ़ रहे थे तभी पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया। इस पर प्रदर्शनकारियों ने पथराव शुरू कर दिया। पथराव के बाद पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया। मौके पर मची अफरातफरी में सड़क पर पत्थर, जूते-चप्पल नजर आ रहे हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश के ही हमीरपुर जिले में भी उपद्रवियों द्वारा हिंसक प्रदर्शन किया गया है।


सीतापुर-शामली में सड़कों पर प्रदर्शन
नागरिकता कानून को लेकर उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले में लहरपुर और शहर में नमाज के बाद प्रदर्शन शुरू हो गया। शामली जिले से भी नमाज के बाद प्रदर्शन से जुड़ी खबरें सामने आईं हैं।


अलीगढ़ में पुलिसकर्मियों पर पथराव
यूपी के अलीगढ़ जिले में भी शाह जमाल ईदगाह पर प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। इस घटना के बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया। यह पूरा मामला थाना देहली गेट क्षेत्र का है।

ड्रोन से लखनऊ में नजर
लखनऊ में स्थितियों पर नजर रखने के लिए ड्रोन का सहारा लिया जा रहा है। डीएम ने कहा, 'हालात अब नियंत्रण में हैं। इंटरनेट सेवाएं बंद हैं। कल (गुरुवार) हुई घटनाओं के बाद केस दर्ज किए गए हैं।'


बुलंदशहर में पुलिस की गाड़ी फूंकी
बुलंदशहर में भी नागरिकता कानून को लेकर उग्र प्रदर्शन शुरू हो गया। यहां पर पुलिस की गाड़ी को आग के हवाले कर दिया गया। पुलिस स्थितियों पर काबू पाने की हर संभव कोशिश में जुटी हुई है। इसके साथ ही बुलंदशहर में इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गईं हैं।



वाराणसी में भी उग्र हुए प्रदर्शनकारी
वाराणसी के बजरडीहा, जौनपुर व भदोही जिले में जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शनकारियों की भीड़ ने पुलिस पर बर्बर तरीके से पथराव किया। पुलिस ने भी जवाब में लाठी चलाने के साथ आंसू गैस के गोले भी प्रयोग किए। आजमगढ़ में इंटरनेट सेवा रविवार तक प्रतिबंधित करने के साथ भारी फोर्स के बीच जुमे की नमाज शांति के साथ हुई। मऊ में भी भारी फोर्स के बीच जुमे की नमाज अमन की दुआ के साथ संपन्न हुई। उपद्रवियों की ओर से अचानक पथराव के चलते भगदड़ में आठ लोग घायल हो गए। इससे पहले उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों की स्थितियों को देखते हुए वाराणसी में पुलिस ने फ्लैग मार्च किया। पुलिस यहां की हर गतिविधि पर बारीकी से नजर रख रही है।


NBT

भदोही में भी प्रदर्शनकारियों का उत्पात
भदोही के काजीपुरा में स्थित एक मस्जिद में दोपहर में जुमे की नमाज के बाद इस कानून का विरोध जताने के लिए 500 से 600 लोग जुलूस की शक्ल में लोग इकट्ठा हुए और नारेबाजी करते हुए अजिमुल्ला चौराहे की तरफ जाने लगे। यहां प्रदर्शनकारियों को जब पहले से मौजूद पुलिस ने आगे बढ़ने से रोका तो उन्होंने रास्ता बदलते हुए जानू शहीद बाबा मजार के रास्ते से स्टेशन रोड की तरफ कूच कर दिया। पुलिस ने जब फिर उन्हें रोकने की कोशिश की तो उग्र भीड़ ने पुलिस पर पत्थरबाजी की। पुलिस ने भी भीड़ को तितरबितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज भी किया।

Popular posts
क्वारेंटाइन के उल्लंघन पर प्रषासन को अलर्ट में सहयोगी-‘‘राज कोविड इन्फो एप’’,
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
बैंकों के केवाईसी फॉर्म्स में ग्राहकों को अपने धर्म का करना पड़ सकता है उल्लेख
Image
शहर में 101 मरीजों की मौतें; एसएमएस हॉस्पिटल में डॉक्टर व लैब टेक्निशियनों के संक्रमित होने से 5441 जांचें पेंडिंग
Image
 संयुक्त राष्ट्र-सुरक्षा परिषद में सीट सुरक्षित करने के लिए भारत ने कैंपेन लॉन्च किया, विदेश मंत्री बोले- वैश्विक महामारी के समय हमारी भूमिका अहम
Image