नागरिकता कानून पर कांग्रेस-बीजेपी के बीच रार, कमलनाथ ने किया शांति मार्च, बीजेपी ने निकाली समर्थन रैली


भोपाल/मुंबई
नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी को लेकर बीजेपी और कांग्रेस के बीच रार तेज है। दोनों एक-दूसरे के खिलाफ रैली निकाल रहे हैं। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कानून के विरोध में शांति यात्रा निकाली तो मुंबई में बीजेपी इसके समर्थन में रैली कर रही है। भोपाल के रंगमहल चौराहे से बड़ी संख्या में कांग्रेस के समर्थकों कमलनाथ के नेतृत्व में विरोध प्रदर्शन किया।

बता दें कि कमलनाथ पहले ही इस कानून का विरोध कर चुके हैं और उन्होंने घोषणा की है वह प्रदेश में नागरिकता संशोधन कानून लागू नहीं होने देंगे। इसी के विरोध में कांग्रेस संविधान बचाओ न्याय शांति यात्रा का आयोजन कर रही है। यह पैदल मार्च रंगमहल चौराहे से शुरू होकर मिंटो हॉल में गांधी प्रतिमा के सामने समाप्त हुआ। यात्रा में हजारों की संख्या में कांग्रेस समर्थक गांधी टोपी पहने और हाथों में तिरंगा लेकर चल रहे हैं।

कठिन दौर से गुजर रहा है देश-कमलनाथ
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा, 'कानून में किसी ने भी हस्ताक्षर किए हों लेकिन ऐसा कोई कानून जो जनविरोधी वह मध्य प्रदेश में लागू नहीं होगा। उन्होंने कहा, 'एनपीआर के समर्थन में तो हम भी थे लेकिन एनसीआर को जोड़ा जा रहा है इससे इनकी नीयत पता चलती है।' कमलनाथ ने आगे कहा, ' मध्य प्रदेश भारत का दिल है इसलिए हम शांति यात्रा के जरिए पूरे देश में संदेश देना चाहते हैं कि इस कानून के जरिए कैसे देश को खतरे में डाला जा रहा है। मध्य प्रदेश सरकार इसे ठुकराती है। हम भारत के संविधान और संस्कृति का सम्मान करते हुए इस कानून का पालन नहीं करेंगे।' उन्होंने कहा कि देश आज कठिन दौर से गुजर रहा है। यह भारतीयों का परम कर्त्तव्य है कि संविधान की रक्षा की जाए और संविधान बचाने के लिए सभी इस कानून का विरोध करें।

मुंबई में समर्थन रैली
दूसरी ओर, मुंबई मे बीजेपी ने नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में रैली निकाली है। इसमें भारी संख्या में समर्थकों ने विशाल तिरंगा यात्रा निकालकर कानून का समर्थन किया है। इससे पहले नागपुर में भी नागरिकता कानून के समर्थन में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, भारतीय जनता पार्टी और लोक अधिकार मंच के कार्यकर्ताओं ने एक विशाल तिरंगा यात्रा निकाली थी।


Popular posts
क्या सुहागरात पर होने वाला सेक्स सहमति से होता है?
Image
कोरोना लॉकडाउन में जरूरतमंद गरीब परिवारों को राहत 1000 रुपयों के बाद 1500 रुपये की और मिलेगी सहायता
Image
गहलोत बोले- धार्मिक आधार पर लोगों को देश से बाहर करने के लिए सरकार खुद अफवाह फैला रही
Image
हार के बाद महाराष्ट्र बीजेपी में बगावत! पंकजा मुंडे ने कहा- 8 से 10 दिन में लूंगी बड़ा फैसला
Image
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग पर्याप्त मात्रा में वेंटिलेटर एवं टेस्ट किट का इंतजाम करके रखें-हैल्थ केयर वर्कर्स हमारे अग्रिम योद्धा-बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखा जाए-मुख्यमंत्री -अशोक गहलोत-
Image