पीठासीन अधिकारियों के सम्मेलन का समापन दल बदल करने वाले विधायकों की सदस्यता निरस्त करने का अधिकार दल के अध्यक्षों के पास होना चाहिए -डॉ. सी.पी जोशी


जयपुर। राजस्थान विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. सी.पी जोशी ने कहा है कि दल-बदल करने वाले विधायकों की सदस्यता निरस्त करने का अधिकार दल के अध्यक्षों के पास चाहिए। उन्होंने कहा कि पार्टी अध्यक्षों को दल बदल करने वाले विधायकों की सूचना चुनाव आयोग को देनी चाहिए, जिस पर चुनाव आयोग को निर्णय लेना होगा।


विधानसभा अध्यक्ष डॉ. जोशी गुरूवार को देहरादून में विधानसभाओं के पीठासीन अधिकारियों के दो दिवसीय सम्मेलन के समापन अवसर को सम्बोधित कर रहे थे।


डॉ. जोशी ने कहा कि विधानसभा के अध्यक्षों द्वारा लिये गए निर्णयों पर विभिन्न न्यायालयों द्वारा दिये गये निर्णयों के अध्ययन के आधार पर दसवीं अनुसूची के अनुरूप आचार संहिता बनाई जानी चाहिए। इस आदर्श आचार संहिता की सीमा में रहते हुए विधानसभाओं के अध्यक्षों को निर्णय लेना चाहिए।
समापन के मौके पर उत्तराखण्ड विधानसभा के अध्यक्ष प्रेम चन्द अग्रवाल ने राजस्थान विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी को स्मृति चिन्ह भेंट किया। 
राजस्थानवासियों ने उत्तराखण्ड में किया स्वागत - 


देहरादून में निवास कर रहे राजस्थानवासियों ने गुरूवार को प्रातः लोकसभा अध्यक्ष  ओम बिरला और राजस्थान विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. सी.पी.जोशी का भाव भीना अभिवादन किया। डॉ. जोशी ने कुल्हड़ की चाय का लुत्फ उठाया।


Popular posts
क्वारेंटाइन के उल्लंघन पर प्रषासन को अलर्ट में सहयोगी-‘‘राज कोविड इन्फो एप’’,
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
बैंकों के केवाईसी फॉर्म्स में ग्राहकों को अपने धर्म का करना पड़ सकता है उल्लेख
Image
शहर में 101 मरीजों की मौतें; एसएमएस हॉस्पिटल में डॉक्टर व लैब टेक्निशियनों के संक्रमित होने से 5441 जांचें पेंडिंग
Image
 संयुक्त राष्ट्र-सुरक्षा परिषद में सीट सुरक्षित करने के लिए भारत ने कैंपेन लॉन्च किया, विदेश मंत्री बोले- वैश्विक महामारी के समय हमारी भूमिका अहम
Image