प्रदेश में देखा गया सूर्य ग्रहण, करीब 2.42 मिनट तक रहा असर



जयपुर. गुरुवार को दुनियाभर में सूर्य ग्रहण रहा। जो राजस्थान में भी देखा गया। इस बार दुर्लभ ग्रह-स्थिति में यह ग्रहण पड़ रहा है। वृद्धि योग और मूल नक्षत्र में हो रहे इस ग्रहण के दौरान गुरुवार और अमावस्या का विशेष संयोग भी रहा। वहीं, धनु राशि में 6 ग्रह एक साथ हैं। ग्रहों की ऐसी स्थिति 296 साल पहले 7 जनवरी 1723 को बनी थी। राजधानी जयपुर में सुर्यग्रहण 8.15 मिनट पर शुरू हुआ, जो 10.57 बजे तक देखा गया। 


देशभर में ग्रहण की अवधि 3:30 घंटे की रहा जबकि जयपुर में ग्रहण की अवधि 2:42 घंटे ही रहा। ज्योतिषाचार्य पं. रामवतार मिश्र ने बताया कि तीन सदी के बाद ऐसा सूर्य ग्रहण है, जिसका अशुभ से ज्यादा शुभ असर देखने को मिल सकता है। 


ग्रहण देखने बिड़ला तारामंडल पहुंचे लोग


सुर्यग्रहण के दौरान जहां  कई जगह मंत्रों के जाप किए गए। वहीं कहीं लोगों सुर्यग्रहण देखने बिड़ला तारामंडल पहुंचे। बच्चे, बढ़े और बुजुर्ग सभी लोग ग्रहण देने पहुंचे।


...और कौन रहें सावधान


शुभ- कर्क, तुला, कुंभ और मीन राशि वालों को इस ग्रहण के प्रभाव से सुख, सफलता, आरोग्य, धन लाभ होगा।
अशुभ - मेष, वृष, मिथुन, सिंह, कन्या। वृश्चिक, धनु और मकर राशि वालों के लिए हानिकारक समय रहेगा। इन 8 राशि वालों को धन हानि हो सकती है। काम बिगड़ सकते हैं। मानसिक और शारीरिक परेशानियां भी होने की आशंका है। 



Popular posts
क्या सुहागरात पर होने वाला सेक्स सहमति से होता है?
Image
कोरोना लॉकडाउन में जरूरतमंद गरीब परिवारों को राहत 1000 रुपयों के बाद 1500 रुपये की और मिलेगी सहायता
Image
गहलोत बोले- धार्मिक आधार पर लोगों को देश से बाहर करने के लिए सरकार खुद अफवाह फैला रही
Image
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग पर्याप्त मात्रा में वेंटिलेटर एवं टेस्ट किट का इंतजाम करके रखें-हैल्थ केयर वर्कर्स हमारे अग्रिम योद्धा-बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखा जाए-मुख्यमंत्री -अशोक गहलोत-
Image
निर्भया कांड के दोषी की दया याचिका गृह मंत्रालय को मिली, जल्द भेजी जाएगी राष्ट्रपति के पास
Image