प्याज के शौकीनों के लिए रेस्तरां व कैटिरंग वालों ने बढ़ाई थाली की कीमतें


गुड़गांव
प्याज की बेकाबू कीमतों ने रेस्तरां और शादी-समारोहों का खाना भी महंगा कर दिया है। आलम यह है कि जहां कुछ रेस्तरां वालों ने प्याज खाने वालों के लिए काउंटर पर बढ़े रेट का नोटिस लगा दिया है वहीं, कुछ कैटर्स ने अपनी थाली के दाम 50 रुपये तक बढ़ा दिए हैं। हालांकि कुछ ने प्याज की मात्रा कम कर कीमतें पहले जैसी ही रखी हैं। इसके पीछे उनका तर्क है कि प्याज के रेट तो कम हो ही जाएंगे, लेकिन वे अपने कस्टमर को नाराज नहीं कर सकते। ये बात और है कि इससे उनका प्रॉफिट कम हो रहा है।

एक रोल पर 5 रुपये एक्स्ट्रा का बोर्ड

सेक्टर-14 स्थित एक रेस्तरां के बाहर काउंटर पर एक नोटिस लगा दिया गया है, जिसमें लिखा है कि प्याज के रेट बढ़ने से प्रत्येक रोल में 5 रुपये एक्स्ट्रा लिए जाएंगे। यहां के संचालक ने बताया कि लोग प्याज की ज्यादा डिमांड करते हैं। जब तक प्याज के रेट कम नहीं हो जाते तब तक रोल में एक्स्ट्रा रुपये लोगों से ही लिए जाएंगे। सलाद में भी प्याज की जगह मूली व खीरे ने ले ली है।


NBT

छोटे समारोह के लिए 50 रुपये महंगी कर दी थाली
गुड़गांव गांव के कैटरिंग संचालक मनु कटारिया ने बताया कि मंहगाई के कारण समारोह की फूड प्लेट के रेट भी कुछ दिनों के लिए थोड़े बढ़ा दिए गए हैं। जिन लोगों की बुकिंग पहले से थी, उनके रेट नहीं बढ़ाए गए हैं, लेकिन जिनकी बुकिंग छोटे कार्यक्रमों के लिए है उनके रेट में 50 रुपये की बढ़ोतरी की गई है। एक प्लेट का रेट 500 रुपये है, जोकि 550 कर दिया गया है। वहीं, ऑफ सीजन और सस्ती सब्जियों के दौरान रेट 400 रुपये भी प्रति प्लेट कर दिया जाता है। वहीं, भीम नगर स्थित कपूर कैटरिंग के संचालक सुमित कपूर ने बताया कि क्वांटिटी थोड़ा कम जरूर हुई है, लेकिन यह महंगाई हम लोगों पर अधिक असर डाल रही है क्योंकि कस्टमर से ज्यादा चार्ज नहीं कर सकते हैं।

पुरानी बुकिंग पर नहीं वसूल रहे बढ़े हुए रेट
सेक्टर-12 में एक कैटरिंग के ओनर मोहित मुटरेजा ने बताया कि 4-5 महीने पहले ही लोग बुकिंग करवा लेते हैं। ऐसे में अब प्याज और सब्जियों के रेट ज्यादा होने के कारण प्राइज नहीं बढ़ाए जा सकते। इसलिए प्रॉफिट कम हो गया है। वहीं, जैकबपुरा स्थित विशाल टैंट हाउस के संचालक लवली सलूजा ने बताया कि प्याज के रेट कुछ समय पहले ही बढ़े हैं और बुकिंग महीनों पुरानी है। जो रेट निर्धारित हैं वही लिए जा रहे हैं।

'पहले 4 हजार अब 12 हजार हो रहे प्याज पर खर्च'
न्यू कॉलोनी स्थित डाइट हाउस के ओनर विक्रम सिंह ने बताया कि प्याज महंगा होने से बहुत फर्क पड़ा है, लेकिन हमें आगे का भी देखना है। इसलिए कुछ दिनों की प्याज महंगाई के कारण कस्टमर को नाराज नहीं कर सकते। कॉलोनी मोड स्थित एक आउटलेट संचालक ने बताया कि हमारे यहां सभी चीजें प्याज के साथ ही बनती हैं। ऐसे में पहले एक हफ्ते का प्याज का खर्चा 4 हजार रुपये होता था, जोकि अब 12 हजार रुपये हो गया है। ऑनलाइन फूड सप्लायर भूखहरा के ओनर ने बताया कि खाने से प्याज की क्वांटिटी कम कर दी गई है, एक्स्ट्रा प्याज का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है।


Popular posts
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image
कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती 17 साल के लड़के की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, इसके संपर्क में आए 5 लोगों के सैंपल लिए
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image
राजस्थान में कोरोना की रफ्तार / पहले 78 दिनों में आए 5 हजार केस, अब 20 दिन में ही 10 हजार के पार पहुंचा आंकड़ा
Image