डिप्टी सीएम सचिन पायलट का अपनी सरकार पर निशाना, बोले-पब्लिक ने किसी एक व्यक्ति को नहीं पार्टी को चुना है


जयपुर. अफसरों से विवाद के कारण सुर्खियों में रहे पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह के समर्थन में उतरे प्रदेश के डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने जवाबदेही को लेकर फिर से सरकार पर निशाना साधा। प्रदेश कांग्रेस कमेटी मुख्यालय में शनिवार को मीडिया से बातचीत के दौरान डिप्टी सीएम पायलट ने कहा कि सरकार चलाना, सरकार की परफोरर्मेंस हम सब की सामूहिक जिम्मेदारी है। इसलिए यदि हमारी टीम में से किसी को कोई परेशानी या दिक्कत है तो उसका समय रहते निराकरण करना बहुत जरूरी है, क्योंकि जवाबदेही कांग्रेस सरकार की है।


सरकार, यह एक सामूहिक लीडरशिप है। यह सामूहिक जिम्मेदारी है।


उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि पब्लिक ने किसी एक व्यक्ति को नहीं चुना है। पब्लिक ने पार्टी को चुना है और पार्टी ने अपने नेता और मंत्री बनाए है। इसलिए 7 करोड़ राजस्थान के लोग चाहते है कि उन्हें एक अच्छी सरकार मिले। जो पिछली भाजपा की सरकार में काम नहीं हो पाए थे। हमने उनको करने का वादा किया है। हमने किसान कर्जमाफी की बात कही है। बेरोजगारों को भत्ता देने की बात कही है और अनेक ऐसे काम जो हम मेनिफेस्टो में कह चुके है। उस पर हम काम कर रहे है। कहीं कमी भी रह गई तो उसे ठीक किया जाएगा। लेकिन यह एक सामूहिक लीडरशिप है। यह सामूहिक जिम्मेदारी है।


पायलट बोले- टीम के किसी सदस्य को कोई दिक्कत है तो उसका संज्ञान लेकर कार्रवाई करे सरकार


पायलट ने कहा कि टीम के सदस्य को यदि कोई दिक्कत है। उसे परेशानी आती है तो उसका संज्ञान लेकर प्रदेश की सरकार को तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए। इससे पहले सचिन पालयट ने कहा कि वे पहले ही इस बारे में कल ही अपनी बात स्पष्ट कर चुके है। उन्हें लगता है कि बहुत जल्द इसका समाधान निकलेगा। आपको बता दें कि सचिन पायलट ने शुक्रवार को कहा था कि विश्वेंद्र सिंह उनसे कल मिले थे। उनको कुछ आपत्तियां है। जो टेंडर प्रक्रिया को लेकर है। मुझे लगता है कि सरकार को संज्ञान लेकर अगर अनियमितताएं पाई जाती है तो उस पर कार्रवाई करनी चाहिए। पायलट ने कहा था कि कोई अधिकारी या कोई प्रशासनिक व्यक्ति मंत्री के साथ समन्वय लेकर काम नहीं कर पा रहा है तो उस पर भी सरकार को इंटरविन करना चाहिए। वो पहले भी दो बार बोल चुके है। पहली बार नहीं हुआ है। 


भाजपा समर्थित आरएलपी सांसद हनुमान बेनीवाल पर बाड़मेर में हमले को लेकर पायलट ने यह कहा


प्रदेश के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बाड़मेर में आरएलपी के सांसद हनुमान बेनीवाल पर हमले की निंदा की है। पीसीसी में शुक्रवार को मीडिया से बातचीत के दौरान डिप्टी सीएम पायलट ने कहा कि नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल पर कल जो हमला हुआ है। वह निंदनीय है। सभ्य समाज में लोकतंत्र में किसी प्रकार की हिंसा को कोई जगह दे। यह हमें स्वीकार्य नहीं है। मैं उम्मीद करता हूं। जिसने भी ऐसा कार्य किया है। उस पर पुलिस उचित कार्रवाई कर रही होगी।सचिनल पायलट ने कहा कि राजनीति में विरोध हो सकता है। वैचारिक मतभेद हो सकते है। लेकिन इस प्रकार का हमला किसी पर कोई करे और हिंसा को अंजाम दे। इसकी मैं कड़े शब्दों में निंदा कर सकता हूं। ऐसा नहीं होना चाहिए था और भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति ना हो। 


मुद्दों पर मतभेद हो सकते है, लेकिन हमला निंदनीय, जनप्रतिनिधियों की सुरक्षा पुख्ता हों


डिप्टी सीएम पायलट ने कहा कि यह जिम्मेदारी हम सब लोगों की है। लेकिन इस प्रकार का जो नेताओं या निर्वाचित सांसद पर हमला या आक्रमण कोई करता है तो हम सब लोगों को मिलकर इसकी निंदा करनी चाहिए और ऐसे तत्वों से भी सावधान रहना पड़ेगा कि हमारे देश में अलग विचार है पार्टियां है। अलग अलग सोच है। अलग अलग दल है। कई मुद्दों पर मतभेद भी हो सकते है। लेकिन यदि कोई किसी भी जनप्रतिनिधि को अटैक करता है तो उसकी मैं तो निंदा करता ही हूं लेकिन मैं चाहता हूं उसका हम सब संज्ञान लें। पुलिस प्रशासन संज्ञान लें। सभी जनप्रतिनिधियों की सुरक्षा पुख्ता की जाए। भविष्य में ऐसी घटना दोबारा ना हो। इस पर जिम्मेदारी से हमको काम करना चाहिए।


यह है पूरा मामला
बाड़मेर में टिड्डी प्रभावित किसानों के लिए विशेष पैकेज व मुआवजा देने की मांग को लेकर नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने गुरूवार को बाड़मेर कलेक्ट्रेट का घेराव कर विरोध-प्रदर्शन किया था। इस दौरान भीड़ में साजिश के तहत घुसे खरताराम बाना ने हनुमान बेनीवाल पर हमले के लिए गिरेबान पकड़ लिया। इस बीच भीड़ ने खरताराम की जमकर धुनाई की। युवक की गंभीर हालत देखते हुए उसे जोधपुर रेफर किया गया है। खरताराम ने ही कर्नल सोनाराम पर भी हमला किया था।


घटना के बाद भाजपा नेता और उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने भी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि आरएलपी सांसद बेनीवाल हमला सोच-समझकर किया। बेनीवाल लगातार गहलोत सरकार के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं। सांसद पर हमला बताता है प्रदेश में कानून का डर खत्म हो गया है। इसी तरह, कांग्रेस की गहलोत सरकार में पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने भी सांसद हनुमान बेनीवाल पर हमले की निंदा करते हुए इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया था।


Popular posts
इरफान के निधन पर गहलोत का ट्वीट- वे राजस्थान के सबसे प्रतिभाशाली एक्टर्स में से एक थे, वसुंधरा राजे ने लिखा- एक एक्टर जो उत्कृष्ट थे
Image
मिलिए अभिनेत्री और मिस इंडिया बिकिनी 2015 निकिता गोखले से, जो इंस्टाग्राम सनसनी हैं
Image
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image
दिल्ली सरकार ने सर गंगाराम अस्पताल पर दर्ज कराई एफआईआर, बेडों की कालाबाजारी का आरोप
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image