केजरीवाल को बताया नक्सली, प्रवेश वर्मा के चुनाव प्रचार पर 24 घंटे की रोक


नई दिल्ली
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को नक्सली बताने और उनकी तुलना आतंकी से करने के मामले में चुनाव आयोग ने बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा के 24 घंटे चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी है। बता दें कि इससे पहले शाहीन बाग प्रदर्शन पर विवादित बयान देने के कारण उनपर 96 घंटे प्रचार पर रोक लगा दी गई थी जिसकी अवधि मंगलवार को ही समाप्त हुई थी।


प्रवेश ने एक न्यूज चैनल से बातचीत में कहा था, 'मैंने उनको आतंकी नहीं, नक्सलवादी कहा जो वह दिल्ली की जनता को गुमराह कर रहे हैं। शाहीन बाग में बैठे लोगों को गुमराह कर रहे हैं और उनको सपॉर्ट कर रहे हैं। जैसे कोई नक्सलवादी काम करता है ऐसे ही दिल्ली के मुख्यमंत्री काम करते हैं। आतंकवाद का काम करने वाला भी लोगों को गुमराह करता है और सीएम केजरीवाल भी लोगों को गुमराह करते हैं।' 


चुनाव आयोग ने उन्हें 30 जनवरी को कारण बताओ नोटिस जारी किया था। आयोग के मुताबिक, प्रवेश ने अपने जवाब में खुद पर लगे आरोपों से इनकार किया है और कहा कि विडियो में उनके बयान को सही तरीके से नहीं दिखाया गया है। आयोग ने आगे कहा कि विडियो को बार-बार देखा गया और उसकी जांच की गई और हम इस नतीजे पर पहुंचे कि प्रवेश वर्मा ने केजरीवाल के बारे में कटु बातें कही हैं। इसलिए आचार संहिता के उल्लंघन करता पाए जाने के कारण उनपर 5 फरवरी शाम 6 बजे से 24 घंटे तक प्रचार पर रोक लगाया जाता है।


आयोग के आदेश के मुताबिक,इस अवधि में प्रवेश जनसभा, रैली, रोडशो नहीं कर पाएंगे और न ही इंटरव्यू नहीं दे पाएंगे। बता दें कि दिल्ली में विधानसभा चुनाव का प्रचार गुरुवार शाम 6 बजे बंद हो जाएगा।