यूनेस्को की डीजी आन्द्रे अजोले ने दिया वर्ल्ड हेरिटेज सिटी का प्रमाण पत्र, बोलीं जयपुर सही मायने में यूनेस्को सिटी


जयपुर। बुधवार को जयपुर के लिए गर्व का दिन रहा। परकोटे को वर्ल्ड हेरिटेज सिटी का दर्जा मिलने के करीब 6 माह बाद यूनेस्को की डीजी आन्द्रे अजोले ने अल्बर्ट हॉल पर हुए भव्य कार्यक्रम में पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह को इसका प्रमाण पत्र सौंपा। इस मौके पर आन्द्रे ने कहा, जयपुर सही मायने में यूनेस्को सिटी है।


उन्होंने कहा, अपनी भव्य इमारतों व गौरवशाली इतिहास के कारण जयपुर का दुनियाभर में नाम है। केवल इसी कारण नहीं यहां का हैंडीक्रॉफ्ट, यहां की जूलरी व अन्य चीजों के कारण भी जयपुर का दुनिया में प्रमुख स्थान है। वर्ल्ड हेरिटेज में अपनी जगह बनाए रखना आसान नहीं है क्यों कि इससे लोगों पर लगातार प्रेशर बना रहता है। वे इसके लिए सतत प्रयासरत रहते हैं।


यूनेस्को की टीम यह प्रमाण पत्र देने के लिए मंगलवार को जयपुर पहुंच गई थी। स्वास्थ्य खराब होने के कारण मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इस कार्यक्रम में नहीं आ पाए। उनकी मौजूदगी में ही आन्द्रे अजोले वर्ल्ड हैरिटेज का प्रमाण पत्र सौंपने वाली थीं। इस मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित हुए।


यूनेस्को डीजी ने अपनी टीम के साथ सुबह आमेर किले, चार दिवारी का भ्रमण किया। टीम आमेर स्थित सरकारी स्कूल भी गई तथा छात्राओं से मुलाकात की। कार्यक्रम के लिए नगर निगम के अधिकारियों ने पूरी तैयार कर ली थी। यूनेस्को की टीम के शहर में भ्रमण से पहले नगर निगम ने वॉल सिटी और आमेर किले के आस-पास सड़कों व नालियों की सफाई करा दी थी।