मंच से गरजते रहे नीतीश, कार्यकर्ताओं से पैर दबवाते रहे जेडीयू विधायक


पटना
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रविवार को राजधानी पटना में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कार्यकर्ताओं की रैली को संबोधित कर रहे थे। सीएम नीतीश जिस समय विपक्षी दलों पर निशाना साध रहे थे, उसी वक्त उन्हीं की जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) पार्टी के एक विधायक आराम फरमाते हुए कार्यकर्ताओं से पैर दबवा रहे थे। यह पूरा मामला पटना के गांधी मैदान का है, जहां सीएम नीतीश के संबोधन के वक्त ही सत्ताधारी दल के एक विधायक का विडियो वायरल हो गया। मैदान में लेटे हुए नेता की पहचान नवादा के विधायक कौशल यादव के तौर पर हुई है। विधायक एक कार्यकर्ता की गोद में सिर रखकर लेटे हुए थे, जबकि दो कार्यकर्ता उनके पैरों को दबा रहे थे।


बता दें कि बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी अटकलों पर विराम देते हुए रविवार को अपने जन्‍मदिन पर ऐलान किया कि उनकी पार्टी जेडीयू, एनडीए के साथ मिलकर आगामी विधानसभा चुनाव लड़ेगी। उन्‍होंने दावा किया कि एनडीए विधानसभा चुनाव में 200 से ज्‍यादा सीटें जीतेगी। नीतीश ने कहा कि आरजेडी और कांग्रेस ने अल्‍पसंख्‍यकों से वोट लिए लेकिन काम हमने उनके लिए किया।

जेडीयू सुप्रीमो ने रैली में विपक्ष पर जमकर हमला बोला
नीतीश ने कहा कि जहां तक एनपीआर की बात तो राज्‍य में यह वर्ष 2010 के फार्मेट के आधार पर होगा और इस संबंध में हमने बिहार विधानसभा में एक प्रस्‍ताव भी पारित किया है। सीएम नीतीश कुमार ने अपनी उपलब्धियां गिनाते हुए कहा, 'एनडीए के शासन में कानून व्यवस्था बेहतर हुई है। हमने भागलपुर दंगे के दोषियों को न्याय के कटघरे में लाकर पीड़ितों के लिए न्याय सुनिश्चित किया।' जेडीयू सुप्रीमो ने रैली में विपक्ष पर भी जमकर हमला बोला। इसके अलावा उन्होंने पलायन, जातिगत जनगणना और बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की अपनी पुरानी मांग दोहराई।


Popular posts
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
राजस्थान में कोरोना की रफ्तार / पहले 78 दिनों में आए 5 हजार केस, अब 20 दिन में ही 10 हजार के पार पहुंचा आंकड़ा
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image
कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती 17 साल के लड़के की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, इसके संपर्क में आए 5 लोगों के सैंपल लिए
Image