राज्यसभा चुनाव / भाजपा की रंजना बघेल ने नाम वापस लिया; तीन सीटों पर होने वाले चुनाव में भाजपा और कांग्रेस के अब 2-2 प्रत्याशी


भोपाल. राज्यसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी  रंजना बघेल ने अपना नामांकन वापस ले लिया है। रंजना की नाम वापसी के बाद अब सिर्फ चार प्रत्याशी मैदान में हैं। इनमें भाजपा से ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी तथा कांग्रेस से दिग्विजय सिंह  और फूल सिंह बरैया हैं। मध्यप्रदेश की तीन राज्यसभा सीटों के लिए 26 मार्च को वोट डाले जाने हैं। कांग्रेस ने फर्स्ट प्रायोरिटी दिग्विजय और सेकेंड पर बरैया को रखा है। जबकि, भाजपा ने फर्स्ट पर सिंधिया और दूसरी पर सोलंकी को रखा है।


दिग्विजय के वकील ने की थी आपत्ति
कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह की ओर से वकील और जेपी धनोपिया ने भाजपा प्रत्याशी ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी के नामांकन पर आपत्ति लगाई थी। आपत्ति में कहा गया है कि सिंधिया ने अपने ऊपर दर्ज कई आपराधिक मामलों की जानकारी छिपाई है। वहीं, सोलंकी के बारे में आपत्ति लगाई गई है कि उन्होंने शासकीय सेवा में रहते हुए राज्यसभा के लिए नामांकन भरा। लेकिन, आपत्ति को खारिज कर दिया गया।


सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने का एक कारण राज्यसभा का टिकट भी
ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने के पीछे राज्यसभा का टिकट न मिलना भी एक कारण था। सिंधिया के पार्टी से हटते ही प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर सियासी संकट आ गया। सिंधिया समर्थक 22 कांग्रेसी विधायकों ने भी पार्टी से इस्तीफा दे दिया, इनमें छह कमलनाथ सरकार में मंत्री थे। इन मंत्रियों का इस्तीफा स्वीकार कर लिया गया है, जबकि अन्य 16 विधायकों के इस्तीफे अभी तक न स्वीकृत हुए हैं और न ही रिजेक्ट हुए हैं।


राज्यसभा चुनाव का कार्यक्रम
मध्य प्रदेश में राज्यसभा की 3 सीटों पर चुनाव के लिए 6 मार्च को अधिसूचना जारी हुई थी। 13 मार्च तक नामांकन पत्र दाखिल हुए थे। 18 मार्च तक प्रत्याशी नाम वापस ले सकते हैं। चुनाव के लिए मतदान 26 मार्च को होगा और इसी दिन मतों की गिनती होगी। जिन तीन सीटों पर चुनाव हो रहे हैं, उनमें से अभी एक कांग्रेस और दो भाजपा के पास थी। कांग्रेस से दिग्विजय सिंह और भाजपा से प्रभात झा और सत्यनारायण जटिया का कार्यकाल 9 अप्रैल को पूरा हो रहा है। कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह और फूल सिंह बरैया को अपना प्रत्याशी बनाया है, जबकि भाजपा ने अपने दोनों प्रत्याशी बदलते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी को टिकट दी है।