WHO ने बताया कि क्यों कोरोना वायरस हवा से नहीं फैल सकता


नई दिल्ली
कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी से पूरी दुनिया में फैल रहा है। दुनिया भर में अब तक 6.50 लाख से भी अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं और 30 हजार से भी अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। सिर्फ भारत में ही कोरोना के संक्रमण का आंकड़ा 1000 के करीब जा पहुंचा है और 20 लोगों की मौत भी हो चुकी है। दुनिया भर की सरकारें बचाव के तमाम उपाय कर रही हैं। भारत में भी लॉकडाउन कर दिया गया है। जागरुकता भी फैलाई जा रही है, लेकिन साथ ही कई तरह की अफवाहें भी फैल रही हैं। एक ऐसी ही अफवाह ये है कि कोरोना वायरस हवा से फैलता है, जिसका विश्व स्वास्थ्य संगठन ने खंडन किया है।


विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी (WHO) ने साफ किया है कि कोरोना वायरस सिर्फ एक संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से फैलता है। उसने कहा है कि कोरोना वायरस का संक्रमण हवा से नहीं फैलता, क्योंकि यह सिर्फ थूक के कणों से ही फैलता है। ये कण कफ, छींक और बोलने से शरीर से बाहर निकलते हैं। थूक के कण इतने हल्के नहीं होते जो हवा के साथ यहां से वहां उड़ जाएं। वह बहुत जल्द ही जमीन पर गिर जाते हैं। 


WHO के अनुसार अगर कोई संक्रमित व्यक्ति के 1 मीटर के दायरे में खड़ा होता है तो कोरोना वायरस सांस के जरिए उसके शरीर में जा सकता है। अगर किसी सतह पर किसी संक्रमित व्यक्ति के थूक के कण गिरे हों और उस सतह को कोई शख्स छूकर अपनी आंख, नाक या मुंह को छू ले तो भी ये वायरस उसके हाथ के जरिए शरीर में जा सकता है। ऐसे में हाथ लगातार धोते रहना जरूरी है। 


Popular posts
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image
दिल्ली सरकार ने सर गंगाराम अस्पताल पर दर्ज कराई एफआईआर, बेडों की कालाबाजारी का आरोप
Image
कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती 17 साल के लड़के की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, इसके संपर्क में आए 5 लोगों के सैंपल लिए
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image