भरतपुर में कोरोना / गर्भवती महिला व उसके बच्चे की जयपुर में प्रसव के दौरान मौत, एक दिन बाद सैंपल आया पॉजिटिव


भरतपुर का जनाना अस्पताल जहां से महिला को जयपुर रैफर किया गया। 
भरतपुर. (आदर्श मधुकर)। जिले के गांव हिसामडा तहसील वैर की रहने वाली 20 वर्षीय एक गर्भवती महिला व उसके बच्चे की जयपुर में प्रसव के दौरान मौत हो गई, जिसका कोरोना वायरस का सैंपल पॉजिटिव आया है। यह महिला जयपुर जाने से पहले राजकीय जनाना अस्पताल भरतपुर में पूरे दिन भर्ती रही थी और रैफर होने के बाद जयपुर गई थी। जिला कलेक्टर ने गांव हिसामड़ा ग्राम पंचायत खेड़ी गुर्जर तथा इसके नजदीक ग्राम पंचायत गांगरोली में रविवार सुबह 11 बजे से कर्फ्यू लगा दिया है।


सीएमएचओ डॉ कप्तान सिंह ने बताया कि हिसामड़ा तहसील वैर निवासी 20 वर्षीय एक महिला पूरे समय से गर्भवती थी। उसे 23 अप्रैल को शाम लेबर पेन शुरू हो गया। उसे परिजन भुसावर सीएचसी ले गए। रात भर भुसावर सीएचसी पर भर्ती रही। वहां चिकित्सकों ने रात 3 बजे यह कहकर महिला को रैफर कर दिया कि बच्चे की धड़कन सुनाई नहीं दे रहीं हैं।


इस पर वह महिला अगले दिन सुबह 24 अप्रैल को 5:25 बजे राजकीय जनाना अस्पताल भरतपुर में प्रसव के लिए भर्ती हुई। जहां उसके परिजनों को महिला के पेट में ही बच्चे के मृत होने की जानकारी दी गई। हालत गंभीर होने के कारण उसे जनाना अस्पताल के एंटीनेटल केयर वार्ड में भर्ती कर ब्लड भी चढ़ाया गया। उसके बाद शाम 5.50 बजे तक उसे चेकअप किया उसके बाद में महिला अस्पताल से बिना बताए अनुपस्थित हो गई।


महिला उसके परिजन कृष्णा कॉलोनी में एक निजी नर्सिंगहोम डॉ सुरेश यादव के यहां लेकर पहुंच गए। जहां डॉक्टर ने उन्हें महिला की गंभीर स्थिति बताते हुए सलाह दी कि वापस राजकीय जनाना अस्पताल ले जाकर जयपुर रैफर कराएं। परिजन गर्भवती को 24 अप्रैल की शाम जनाना अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां से उसे शाम करीब 7.30 बजे जयपुर रैफर करा कर ले गए। 24 अप्रैल की रात को जयपुर के महिला चिकित्सालय में भर्ती कर लिया गया, जहां रात एक बजे सिजेरियन ऑपरेशन से प्रसव कराया।


महिला की मौत हो गई और बच्चा भी मृत पैदा हुआ 


इसी दौरान महिला की मौत हो गई और बच्चा भी मृत हुआ। 25 अप्रैल को उसका कोरोना वायरस की जांच का सैंपल लिया गया और शव को जयपुर की मोर्चरी में रखवा दिया गया। सैंपल की जांच रिपोर्ट रविवार 26 अप्रैल को सुबह कोरोना वायरस पॉजिटिव आई।


इसके बाद भरतपुर में मेडिकल विभाग की टीमें गांव हिसामडा पहुंच गईं और घर-घर सर्वे तथा अन्य जानकारी लेने में जुट गईं और जिला प्रशासन ने ग्राम पंचायत खेड़ी गुर्जर और ग्राम पंचायत गागरोन के क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया है।


इधर, जनाना अस्पताल के लेबर रूम व वार्ड के चिकित्सा कर्मियों की जानकारी की जा रही है जो उस महिला के संपर्क में आए और अब उन्हें क्वारैंटाइन किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व भी जिले के गांव पाथेना तहसील भुसावर की 55 वर्षीय एक महिला लिवर व डायबिटीज के रोग के कारण एसएमएस जयपुर में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी 20 अप्रैल को मौत होने के बाद कोरोना वायरस के सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।


Popular posts
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
राजस्थान में कोरोना की रफ्तार / पहले 78 दिनों में आए 5 हजार केस, अब 20 दिन में ही 10 हजार के पार पहुंचा आंकड़ा
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image
कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती 17 साल के लड़के की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, इसके संपर्क में आए 5 लोगों के सैंपल लिए
Image