कोरोना का डर, लॉकडाउन बढ़ने की आशंका, अगस्त से पहले स्कूल खुलना मुश्किल


बेंगलुरु
कोरोना वायरस से निपटने के लिए लॉकडाउन बढ़ाने की बात हो रही है। इसी के साथ कर्नाटक में अगस्त से पहले स्कूल खुलने पर आशंका है। लॉकडाउन के चलते स्कूलों में परीक्षा, मूल्यांकन, ऐडमिशन और किताबें और यूनिफॉर्म की खरीद पहले से ही रुकी हुई है। ऐसे में स्कूलों में एकैडमिक ईयर 2020-21 अब जुलाई या अगस्त से ही शुरू हो पाएगा।


विशेषज्ञों, शिक्षाविदों और राज्य में प्राइवेट स्कूलों के प्रतिनिधियों के अनुसार, 2020- 21 का एकैडमिक ईयर अगस्त से शुरू हो पाएगा। इसी के साथ उन्होंने राज्य सरकार से अगस्त से शैक्षणिक वर्ष शुरू करने की घोषणा की मांग की। कर्नाटक में प्राइमरी और सेकेंडरी स्कूल के एसोसिएटेड मैनेजमेंट के महासचिव डॉ. शशि कुमार ने कहा, 'जुलाई के बाद ही नए शैक्षणिक वर्ष की घोषणा होगी क्योंकि अगर जून के आखिर तक कोरोना संकट खत्म भी हो गया, तो भी हमें स्कूल शुरू करने के लिए एक महीने का अतिरिक्त वक्त चाहिए होगा।'

'बच्चों के जीवन पर रिस्क नहीं ले सकते'
एक सीबीएसई स्कूल के प्रिंसिपल ने बताया, 'अगर लॉकडाउन खत्म होता है तो भी हम रिस्क नहीं उठाएंगे जब तक कि हम बच्चों की सुरक्षा को लेकर 100 फीसदी निश्चित न हो जाएं। मुझे नहीं लगता कि हम जुलाई से पहले प्राइमरी मीडियम शुरू कर पाएंगे। बच्चे इंफेक्शन के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना मुश्किल हो जाएगा। इसलिए हम शैक्षणिक वर्ष अगस्त तक बढ़ाने के लिए मजबूर हैं।'