कोरोना वायरस महामारी से मरे लोगों को भी 'स्वस्थ' बता रहा यह देश


सैंटियागो
चिली में कोरोना वायरस संक्रमण के अभी तक 7917 मामले सामने आए हैं, जबकि 92 लोगों की इससे मौत हुई है। लेकिन चिली कोरोना वायरस से मरने वालों लोगों को बीमारी से ठीक हुए लोगों में गिन रहा है। यहां के स्वास्‍थ्‍य मंत्री जैम मनालिच ने का कहना है, 'संक्रमण से मरने वालों को ठीक हुआ माना जा रहा है, क्योंकि अब उनमें कोई संक्रमण नहीं है और न ही वे संक्रमण फैला सकते हैं।'
न्‍यूयॉर्क पोस्‍ट की खबर के मुताबिक स्वास्थ्य मंत्री मनालिच ने इससे पहले कहा था कि हम ऐसे लोगों के लिए एक प्रमाण पत्र जारी करेंगे। इससे लोगों में कोरोना वायरस से लड़ने में हिम्मत बढ़ेगी। मनालीच ने कहा कि चिली में संक्रमणों की संख्या के संबंध में कम मौतें हुई हैं। मनालिच ने कथित रूप से दावा किया है कि मरने वालों की गिनती करने का यह तरीका 'अंतरराष्‍ट्रीय विशेषज्ञों' की सिफारिश पर अपनाया गया है।


वैज्ञानिकों ने कहा- शवों से भी फैलता है कोरोना
कोविड-19 महामारी से जूझ रहे थाईलैंड के एक्सपर्ट्स ने कोरोना को लेकर हैरान करने वाली जानकारी दी है। रिसर्च में कहा गया है कि डेड बॉडी से भी कोरोना वायरस फैल सकता है। थाईलैंड में शव का परीक्षण कर रहे एक डॉक्टर में कोरोना की पुष्टि हुई है। ये खबर शव गृहों के कर्मचारियों और डॉक्टरों के लिए चिंताजनक है।


यह पहली रिसर्च है जिसमें इस तरह की बात सामने आई है कि शव से भी वायरस इंसानों में फैल सकता है। इस रिसर्च के शोधकर्ता वॉन श्रीविजितालई और विरोज का कहना है कि फोरेंसिक कर्मियों के संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आने का चांस बहुत कम होता है लेकिन बॉयोलॉजिकल सैंपल और शवों के संपर्क में वे आ जाते हैं।