मांस के सेवन से कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं होता है


जयपुर, पशुपालन विभाग ने स्पष्ट करते हुए कहा है कि मांस का सेवन करने से कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं होता है, बल्कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। लोग बेफिक्र होकर अण्डे, चिकन और मछली का खाने में उपयोग कर सकते हैं। 


पशुपालन विभाग के अनुसार राज्य सरकार ने भी अपनी एडवाइजरी में स्पष्ट किया है कि पशुपालन, मत्स्य और डेयरी की सभी गतिविधियां प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से अनुमत की गई है। पशु दाना व चारा, मुर्गी दाना, मछली आहार और इससे जुड़ी विक्रय की दुकानें भी इसमें शामिल है। साथ ही मुर्गी पालन के लिये सभी विनिर्माण इकाइयां जिसके अन्तर्गत पैकेजिंग और अन्य इकाईयां जो आपूर्ति का हिस्सा है को भी अनुमत किया गया है। 


पशुपालन विभाग के मुताबिक केन्द्र सरकार की ओर से जारी एडवाइजरी में भी स्पष्ट किया गया है कि अण्डे, चिकन और मछली अच्छी गुणवत्ता वाले प्रोटीन के सस्ते स्रोत हैं। इनके सेवन से इंसानों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, जो कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षा प्रदान करने में मदद करती है। विभाग ने स्वच्छता का पूरा ध्यान रखने की सलाह देते हुए कहा है कि इनके सेवन से पूर्व इन्हें अच्छी तरह से धोकर पूरी तरह से पका कर ही इनका सेवन करें।