यूपी में 15 अप्रैल से लॉकडाउन खोलने की तैयारियां तेज


कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देशभर में 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है। यूपी में 15 अप्रैल से लॉकडाउन खोलने की तैयारियां तेज कर दी गईं हैं। रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी के विधायक और सांसदों से वीडियो क्रांफेंसिंग पर बात की। जिसमें योगी ने बताया कि हो सकता है 15 अप्रैल से फेस वाइज लॉकडाउन खोला जाए। मुख्यमंत्री ने सभी प्रदेश के सभी सांसदों, विधायकों और मंत्रियो से लॉकडाउन खुलने के बाद कि स्थिति संभालने के लिए सुझाव मांगें हैं। योगी का कहना है कि सरकार को इससे अपनी कार्ययोजना बनाने में मदद मिलेगी। 


15 अप्रैल के बाद भीड़ न लगने देने पर जोर :
सरकार का पूरा जोर इस बात पर है कि लॉकडाउन खोलने के बाद भीड़ जमा ना हो। इसके लिए भी पूरी तैयारियां चल रही हैं। सूत्रों की मानें तो यूपी सरकार पहले उन जिलों से लॉकडाउन हटाएगी, जहाँ कोरोना वायरस संक्रमण अपेक्षा काफी कम है। इसमे भी वायरस संक्रमण वाले हॉट स्पॉट चिन्हित किए जा रहे हैं।


डीएम-एसपी से पहले ही करा चुके हैं आकंलन : 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने  विधायक और सांसदों से सुझाव मांगने से पहले जिलों के डीएम व एसपी से भी लॉकडाउन हटाने के बाद के हालात का आकलन करने को कहा था। वहीं कुछ दिन पहले अधिकारियों ने बताया था कि अगर लॉकडाउन खुला तो सबसे पहले बाजार व मंडियों को खोला जाएगा। माल में मल्टीपलेक्स को इस दायरे से बाहर रखने की योजना बन रही है।  मौजूदा वक्त की सारी ऐहतियात बाद में भी सख्ती से बरती जाएगी। इसमें समूह में न निकलने से लेकर सैनिटाइजेशन तक शामिल हैं।


 सोशल डिस्टेंसिंग पर अमल  करें 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम 15 अप्रैल से फेसवाइज लॉकडाउन  खोल सकते हैँ। लेकिन तो हालात बहुत चुनौतीपूर्ण होंगे। सभी को इसका पूरा ख्याल रखना जरूरी है। ऐसे में जो जहां फंसा होगा, वहां से आने का प्रयास करेगा।