अश्लील क्लिप ने बढ़ाई मेहसाणा शहर कांग्रेस अध्यक्ष की मुसीबत


अहमदाबाद
गुजरात में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है, वहीं इस बीच अहमदाबाद में कांग्रेस के खेमे से चौंका देने वाली खबर सामने आई है। दरअसल मेहसाणा शहर कांग्रेस अध्यक्ष भौतिक भट्ट की ओर से लोकल कांग्रेस के व्हाट्सएप ग्रुप एक अश्लील क्लिप पोस्ट किया गया। इसके बाद पूरे खेमें में हड़कंप मच गया।

ग्रुप में जुड़े सभी महिलाओं और नेताओं ने के होश उड़ गए। बाद में भट्ट ने दावा किया कि उनके प्रतिद्वंद्वियों ने ग्रुप के अंदर वीडियो भेजा है, जब उन्होंने फोन को चार्जिंग के लिए छोड़ दिया था।


ग्रुप में पोस्ट की गई अश्लील क्लिप ने न केवल सदस्यों को परेशान किया, बल्कि ग्रुप से जुड़ी महिलाओं ने इसके तत्काल डिलीट के लिए कहा, जबकि पूर्व सांसद दिलीप ठाकोर ने कड़ी फटकार के साथ अपना गुस्सा दिखाते हुआ भेजने वाले का नाम जानना चाहा। एक अन्य सदस्य, गीताबेन पटेल ने लिखा कि ग्रुप में महिलाएं थीं और भेजने वाले को इसे तुरंत हटाना चाहिए था और इस तरह के वीडियो पोस्ट करना गलत था।


बाद में मांगी माफी
भौतिक भट्ट ने बाद में खुद एक माफीनामा पोस्ट किया। अपने संदेश में उन्होंने लिखा कि वह अपनी बहनों और सभी महिलाओं, पार्टी अध्यक्ष और सभी नेताओं और सदस्यों से हाथ जोड़कर माफी मांगते हैं। उन्होंने दावा किया कि वह हाईवे पर कांग्रेस के शहर अध्यक्ष के रूप में भोजन के पैकेट उपलब्ध कराने के लिए एक शिविर चला रहे थे।


उन्होंने बताया कि वह पिछले पांच दिनों से मेहसाणा रेलवे स्टेशन पर थे। तभी उन्होंने अपने मोबाइल को चार्ज करने के लिए छोड़ दिया था, तभी किसी ने उसकी जानकारी के बिना क्लिप भेज दिया।


कांग्रेस नेता की सफाई
भट्ट ने कहा, मैं 33 साल की उम्र में शहर अध्यक्ष बन गया था और पिछले चार साल से इस पद पर हूं। मैं निर्दोष हूं। मैंने अपने मोबाइल फोन से अश्लील क्लिप भेजे जाने के बारे में पुलिस को भी एक आवेदन भेजा है। उन्होंने लोगों से इसे राजनीतिक मुद्दा नहीं बनाने की अपील की और छोटे भाई के रूप में माफी मांगी। 


Popular posts
स्कूली दिनों के तीन दोस्तों के हाथ में जल, थल और नभ.. की सुरक्षा की कमान
Image
भारत-चीन में हुई लेफ्टिनेंट जनरल लेवल बातचीत
Image
 स्पेशल फ्लाइट: सरकार को फटकार / मिडिल सीट भरने पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- सरकार को एयरलाइंस की बजाय लोगों की सेहत की चिंता करनी चाहिए
Image
रेलवे की बेदर्द अपील- श्रमिक ट्रेनों में गर्भवती महिलाएं, बच्चे सफर न करें; सवाल- क्या इन ट्रेनों में लोग सैर पर निकले हैं? बच्चों और महिलाओं को छोड़कर मजदूर घर कैसे लौटेंगे?
Image
केन्द्र सरकार वहन करें श्रमिकों व मजदूरों को अपने-अपने राज्यों में पहुंचाने का खर्चा: पायलट
Image