भारत-चीन विवाद पर बोली कांग्रेस,सरकार बताए सीमा पर क्या हो रहा है?


नई दिल्ली
पिछले काफी दिनों से भारत-चीन के बीच तनातनी देखी जा रही है। चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। चीन ने पूर्वी लद्दाख की पैंगोंग त्सो झील में अपनी गश्ती नौकाओं की तैनाती बढ़ा दी है। इन सभी घटनाक्रमों को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार को पत्र भेजा है। पत्र में लिखा है कि लद्दाख में काफी दिनों से जो कुछ भी चल रहा है सरकार को जनता के सामने सारी स्थितियां स्पष्ट करनी चाहिए।

जनता को संबोधित करे सरकार
कांग्रेस ने कहा है, 'चीन ने पूर्वी लद्दाख की पैंगोंग त्सो झील और गलवान पहाड़ियों के आसपास के क्षेत्र में चीन की सेना बढ़ाई गई है और भारतीय सेना और चीनी सेना के बीच कुछ झड़पों की भी बात सामने आई है। ये एक राष्ट्र के लिए गंभीर विषय है। देश और विदेश की तमाम मीडिया के हवाले से जो खबरें आ रही हैं उससे देशवासियों को चिंता में डाल दिया है। कांग्रेस सरकार केंद्र सरकार से अपील करती है कि देश को भरोसे में लेते हुए सारी स्थितियों से अवगत कराएं।


सीमा विवाद पर क्‍या बोले थे राहुल
इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इस मसले पर सवाल उठाए थे। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि बॉर्डर पर जो हुआ है, इसकी डिटेल्स सरकार को देश के सामने रखना चाहिए। अभी किसी को नहीं पता है कि क्या हुआ है, नेपाल के साथ क्या हुआ और लद्दाख में क्या हो रहा है। सरकार को देश के सामने रखना चाहिए। इसके अलावा चीन के साथ हुए विवाद पर राहुल गांधी बोले कि भारत-चीन का मुद्दा अभी चल रहा है। उस पर मैं ज्यादा नहीं बोलना चाहता, उसको मैं सरकार की बुद्धिमानी पर छोड़ता हूं। मगर पारदर्शिता की जरूर आवश्यकता है, क्योंकि पारदर्शिता के बिना मेरा इस पर बोलना सही नहीं होगा। 


Popular posts
मिलिए अभिनेत्री और मिस इंडिया बिकिनी 2015 निकिता गोखले से, जो इंस्टाग्राम सनसनी हैं
Image
इरफान के निधन पर गहलोत का ट्वीट- वे राजस्थान के सबसे प्रतिभाशाली एक्टर्स में से एक थे, वसुंधरा राजे ने लिखा- एक एक्टर जो उत्कृष्ट थे
Image
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image
भारत-चीन में हुई लेफ्टिनेंट जनरल लेवल बातचीत
Image