कोरोना संकट के बीच महिला जनधन अकाउंट में 500 रुपये की दूसरी किस्त 4 मई से


नई दिल्ली
सरकार ने दो और सप्ताह के लिए लॉकडाउन को 17 मई तक बढ़ा दिया है। हालांकि इस दौरान पूरे देश में तमाम रियायतें दी गई हैं। इन रियायत का लोगों को कितना फायदा होगा इसका पता तो आने वाले कुछ समय में चलेगा। इस बीच सरकार ने महिला जनधन खातों में 500-500 रुपये की दूसरी किस्त को सोमवार से डालने का ऐलान किया है।

तीन महीने तक 500-500 रुपये मिलेंगे
कोविड-19 संकट के दौरान गरीबों की मदद के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 26 मार्च को महिला जनधन खाताधारकों के खातों में अप्रैल से तीन महीने तक हर माह 500 रुपये की मदद देने की घोषणा की थी। वित्तीय सेवा सचिव देवाशीष पांडा ने शनिवार को ट्वीट के जरिये यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के तहत प्रधानमंत्री जनधन योजना (PMJDY) महिला खाताधारकों के बैंक खातों में मई माह की किस्त भेज दी गई है।'


पांच दिनों में सभी अकाउंट में पैसे ट्रांसफर होंगे
उन्होंने कहा कि लाभार्थियों को यह पैसा निकालने के लिए एक सारिणी जारी की गई है। उसी के हिसाब से वे बैंक शाखा या ग्राहक सेवा केंद्र (सीएसपी) जाकर पैसा निकालें। इस पैसे को एटीएम से भी निकाला जा सकता है। उन्होंने कहा कि बैंक शाखाओं में भीड़ न जुटे इसलिए इस राशि को पांच दिन की अवधि में ट्रांसफर किया जाएगा। इससे सामाजिक दूरी के दिशानिर्देशों का अनुपालन करने में मदद मिलेगी।


खाता संख्या के हिसाब से होगा मनी ट्रांसफर
तय सारिणी के अनुसार ऐसी महिलाएं जिनके जनधन खाते का आखिरी अंक शून्य और एक है उनके खातों में यह पैसा चार मई को डाला जाएगा। जिनके खातों का आखिरी अंक दो और तीन है, वे पांच मई को अपने खातों से पैसा निकाल सकती हैं। छह मई को चार और पांच अंतिम अंक और आठ मई को छह और सात अंतिम अंक की महिला लाभार्थियों के खातों में यह पैसा डाला जाएगा। जिन खाताधारकों के खातों का अंतिम अंक आठ और नौ है उन्हें 11 मई को यह पैसा मिलेगा। किसी आपात स्थिति में महिला खाताधारक तत्काल यह पैसा निकाल सकेंगी। 11 मई के बाद वे कभी भी अपनी सुविधानुसार यह पैसा निकाल सकेंगी। 


Popular posts
स्कूली दिनों के तीन दोस्तों के हाथ में जल, थल और नभ.. की सुरक्षा की कमान
Image
भारत-चीन में हुई लेफ्टिनेंट जनरल लेवल बातचीत
Image
 स्पेशल फ्लाइट: सरकार को फटकार / मिडिल सीट भरने पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- सरकार को एयरलाइंस की बजाय लोगों की सेहत की चिंता करनी चाहिए
Image
रेलवे की बेदर्द अपील- श्रमिक ट्रेनों में गर्भवती महिलाएं, बच्चे सफर न करें; सवाल- क्या इन ट्रेनों में लोग सैर पर निकले हैं? बच्चों और महिलाओं को छोड़कर मजदूर घर कैसे लौटेंगे?
Image
केन्द्र सरकार वहन करें श्रमिकों व मजदूरों को अपने-अपने राज्यों में पहुंचाने का खर्चा: पायलट
Image