पुलिस महानिदेशक ने लॉकडाउन के नियमों के उल्लंघन पर सख्त एक्शन के निर्देश दिए, बेवजह घूमने पर भी होगी कार्रवाई


जयपुर. राजस्थान पुलिस महानिदेशक भूपेन्द्र सिंह ने गुरुवार को वीडियों कांफ्रेंस के माध्यम से कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए तमाम गतिविधियों पर अधिकारियों के साथ विस्तार से समीक्षा की। भूपेन्द्र सिंह ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार द्वारा लागू किए गए राजस्थान एपेडमिक अध्यादेश सहित विभिन्न प्रावधानों की अनुपालना सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए। साथ ही लॉकडाउन के नियमों के उल्लंघन पर व्यक्तियों के खिलाफ आपदा प्रबंधन, महामारी अधिनियम व आईपीसी की धाराओं में कार्रवाई करने के निर्देश दिए। साथ ही लॉकडाउन के नियमों की अवहेलना कर बेवजह घूमते पाए गए वाहन चालकों के विरूद्ध कार्रवाई के भी निर्देश दिये गए। 


महानिदेशक पुलिस ने कोरोना वारियर्स पर हमले के मामलों को अत्यन्त गम्भीरता से लेकर सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए। उन्होंने सोशल मीडिया के दुरुपयोग के मामले पर लगातार कड़ी नजर बनाए रखने के निर्देश दिए। वीसी में मानवीय दृष्टिकोण के साथ पुलिस के जवानों द्वारा सामाजिक सरोकार को निभाकर वंचित व्यक्तियो को भोजन सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराने की सराहना की गयी।


भूपेन्द्र सिंह ने स्वास्थ्य कर्मियों के साथ समन्वय स्थापित कर बेहतर टीम वर्क के साथ इस आपदा से निपटने के निर्देश दिए। उन्होंने जनजीवन के सामान्य होने के साथ ही अपराधों एवं दुर्घटनाओं में संभावित बढ़ोतरी के प्रति आवश्यक सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मी पूर्ण निष्ठा के साथ लंबी ड्यूटी कर कोरोना की रोकथाम में सहयोग कर रहे हैं। उन्होंने जवानों के स्वास्थ्य एवं कल्याण का विशेष ध्यान रखने हेतु अधिकारियों को निर्देशित किया।


Popular posts
कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती 17 साल के लड़के की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, इसके संपर्क में आए 5 लोगों के सैंपल लिए
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image
भारत-चीन में हुई लेफ्टिनेंट जनरल लेवल बातचीत
Image
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image