टिड्डियों पर एक्शन - जयपुर के आसपास पहुंचे एक दल में 65 प्रतिशत टिड्डियों के मारे जाने का दावा, देर रात खेतों में चला ऑपरेशन


जयपुर जिले के लगड़ियावास पंचायत के डंगरवाड़ा ग्राम में चलाया गया ऑपरेशन। 


जयपुर. राजस्थान में टड्डियों का मूवमेंट लगातार जारी है। इस दौरान जयपुर जिले के जमवारामगढ़ और लांगडियावास में भी लगातार इनका असर देखा जा रहा है। मंगलवार रात भी टिड्डियों का दल डांगरवाडा गांव पहुंचा। जहां टिड्डियों रात में खेतों में जाकर बैठ गई। इस दौरान कृषि अधिकारियों द्वारा खेतों में रातभर टिड्डी नियंत्रण चलाया गया। जिसमें करीब 65 प्रतिशत दल को मार डाला गया।


कृषि विभाग ने रात 11 बजे से बुधवार सुबह 8 बजे तक ऑपरेशन जारी रखा। उधर सरपंच नारायण मीणा ने फसलों में थोड़ा नुकसान होने की आशंका जताई। इससे पहले जमवारामगढ़ में दल ने 23 मई को फसलों को बर्बाद कर दिया था।इसी दिन दल लांगडियावास होते हुए नायला पहुंचा था।
खेतों में रात को सो रही टिड्डियों पर केमिकल का छिड़काव किया गया।


जानकारी अनुसार, लगभग 2 किलोमीटर लंबे व 2 किलोमीटर चौड़े दल में शामिल एक करोड़ से अधिक संख्या में टिड्डियों ने मंगलवार रात लांगडियावास में प्रवेश किया। टिड्डी दल ग्राम पंचायत के खुर्द डांगरवाडा गांव के खेतों में फसलों पर बैठ गया। दल के साथ-साथ कृषि अधिकारी वहां पहुंचे। टिड्डियों के सोने पर कृषि विभाग ने खेतों में दवा का छिड़काव किया। ऑपरेशन में कृषि कर्मियों ने क्लोरोपाईरीपोरस व लेम्डा ईसी को पानी में मिलाकर खेतों में सो रहे टिड्डी दल पर छिड़काव किया।


65 से 70 फीसदी टिड्डियों का सफाया हुआ


ऑपरेशन में कृषि विभाग के 35 अधिकारी-कर्मचारी, तीन फायर बिग्रेड गाड़ी, आठ टैंकर माउंटेन स्प्रे और 5 टैंकर पानी के शामिल थे। उपनिदेशक कृषि विस्तार जिला परिषद जयपुर बीआर कड़वा और सहायक कृषि निदेशक शाहपुरा सरदार यादव ने ऑपरेशन में 65 से 70 प्रतिशत टिड्डियों के मारे जाने का दावा किया है। सहायक निदेशक शाहपुरा सरदार यादव ने  कहा कि दल में एक करोड़ से अधिक टिड्डियां शामिल थी। वहां फसलों को नुकसान होने से बचा लिया गया है। शेष दल सुबह 8 नायला होते हुए बस्सी की तरफ मूवमेंट कर गया।


मुआवजे की मांग


कृषि विभाग के ऑपरेशन में अधिकारियों के साथ सहयोग में पूरी रात तैनात सरपंच नारायण मीणा ने फसलों में नुकसान होने की आशंका जताई है। उन्होंने सरकार से फसलों की गिरदावरी कर किसानों को नुकसान का मुआवजा देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि ऑपरेशन शुरू होने से पहले चार-पांच घंटों तक दल ने फसलों में नुकसान किया है। किसानों को थोडा बहुत नुकसान जरूर हुआ है। सरकार को फसलों की गिरदावरी करवा कर किसानों को मुआवजा राशि देनी चाहिए। नारायण मीणा ने कहा कि गत 8 दिनों में जमवारामगढ़ तहसील क्षेत्र में टिडडी  दल का दूसरी बार आक्रमण हुआ है। बहुत बड़ी संख्या में टिडडी दल यहां रुक गया जो अंडे देकर अपनी संख्या भी बढ़ा सकता है। ऐसे में तहसील क्षेत्र के किसानों के लिए बड़ी चिंता का विषय हो गया है


 


Popular posts
क्वारेंटाइन के उल्लंघन पर प्रषासन को अलर्ट में सहयोगी-‘‘राज कोविड इन्फो एप’’,
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
बैंकों के केवाईसी फॉर्म्स में ग्राहकों को अपने धर्म का करना पड़ सकता है उल्लेख
Image
शहर में 101 मरीजों की मौतें; एसएमएस हॉस्पिटल में डॉक्टर व लैब टेक्निशियनों के संक्रमित होने से 5441 जांचें पेंडिंग
Image
 संयुक्त राष्ट्र-सुरक्षा परिषद में सीट सुरक्षित करने के लिए भारत ने कैंपेन लॉन्च किया, विदेश मंत्री बोले- वैश्विक महामारी के समय हमारी भूमिका अहम
Image