जीपीएफ विभाग का कनिष्ठ लिपिक 2500 रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार


जयपुर. शहर में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने गुरुवार को जीपीएफ विभाग में पदस्थापित कनिष्ठ लिपिक को 2500 रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। यह कार्रवाई एडिशनल एसपी पृथ्वीराज मीणा के निर्देशन में पुलिस इंस्पेक्टर नरेंद्र सिंह महरिया के नेतृत्व में गठित एसीबी टीम ने की। एएसपी मीणा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी रघुवीर सिंह है। उसके खिलाफ एक व्यक्ति ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई थी।


जिसमें बताया कि उसने जीपीएफ का बिल पास करवाने के आवेदन किया था। इस बिल को पास करने की एवज में वहां पदस्थापित कनिष्ठ लिपिक आरोपी रघुवीर सिंह ने ढाई हजार रुपए की रिश्वत की मांग की। तब शिकायतकर्ता से रघुवीर सिंह ने रिश्वत के रुप में 500 रुपए पहले ले लिए। शेष दो हजार रुपए गुरुवार को देना तय हुआ।


इस दौरान शिकायत का सत्यापन होने पर एसीबी ने ट्रेप रचा। गुरुवार को शिकायतकर्ता को आरोपी रघुवीर सिंह ने सांगानेर में नगर निगम कार्यालय के पास बुलवाया। जहां रिश्वत की रकम लेकर नोटों को जेब में रख लिया। तभी ईशारा मिलने पर वहां सादावर्दी में मौजूद एसीबी टीम ने आरोपी रघुवीर सिंह को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। उसके कब्जे से रिश्वत की रकम बरामद कर ली। 


Popular posts
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
राजस्थान में कोरोना की रफ्तार / पहले 78 दिनों में आए 5 हजार केस, अब 20 दिन में ही 10 हजार के पार पहुंचा आंकड़ा
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image
कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती 17 साल के लड़के की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, इसके संपर्क में आए 5 लोगों के सैंपल लिए
Image