सीएम गहलोत की वीसी - कहा, हिन्दू और मुसलमान के आधार पर कोई भेदभाव नहीं, इस समय यह करने का वक्त नहीं


जयपुर। राज्य के सीएम अशोक गहलोत इस समय एमएलए व एमपी से संभाग वार वीसी कर रहे हैं। इसमें विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया समेत अनेक विधायक व सांसद शामिल हैं। गहलोत ने अपनी शुरुआती बात में कहा कि सभी जनप्रतिनिधि इस बात का ध्यान रखें कि क्वारंटीन सेंटर बनने में दिक्कत नहीं आए। 


इसके लिए गांवों में जनप्रतिनिधियों, भामाशाहों से बातचीत करें। कैसे भी करके जनता को भ्रमित न होने दें। 


गहलोत ने कहा कि कोविड के अलावा अन्य बीमारियों का भी ध्यान रखें। कोविड के अलावा अन्य मरीजों को भी प्राथमिकता देंगे ऐसा हमने मोबाइल वेन के माध्यम से शुरू किया है। ओपीडी भी शुरू किए हैं। ऑनलाइन इलाज पर भी व्यवस्था की है। आज हर विभाग के कर्मचारी मन लगाकर काम कर रहे हैं। कोई शिकायत नहीं है आमतौर पर। पक्ष-विपक्ष के सहयोग से यह सब संभव हो पाया है। हमारा उद्देश्य कोरोना काे हराने का है। 


सीएम ने सांसद रामचरण बोहरा की बात का जवाब देते हुए कहा कि कई लोग कह रहे हैं कि भेदभाव किया जा रहा है। ऐसा इस समय हो सकता है क्या? हिन्दू और मुसलमानों में कोई भेदभाव नहीं हो रहा। कोई नहीं चाहता कोरोना बढ़े। कई लोगों ने कहा कि यदि कंट्रोल कर लेते तो जोधपुर और जयपुर में कोरोना नहीं फैलता। कौन चाहता है फैलाना। जो चाहेगा वो भी उसका शिकार हो जाएगा। अभी ये सब बातें करने का वक्त नहीं। आप सुझाव दीजिए कि राज्य में कैसे कोरोना से लड़ते हुए आर्थिक गतिविधियों को चलाया जा सकता है। 


Popular posts
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image
दिल्ली सरकार ने सर गंगाराम अस्पताल पर दर्ज कराई एफआईआर, बेडों की कालाबाजारी का आरोप
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
अब मान भी जाइए, ऐसे उमड़ेगी भीड़ तो कैसे रुकेगा कोरोना का संक्रमण
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image