शराब के नशे में कर रहा था हंगामा, थाने लाई पुलिस तो सिर पटकर दी जान


अहमदाबाद
गुजरात के अहमदाबाद में एक शराबी की पुलिस स्टेशन में मौत के बाद हंगामा हो गया। लोगों ने पुलिस पर आरोपी की पीटने से मौत का आरोप लगाया। हालांकि सीसीटीवी फुटेज की जांच के बाद पता चला कि शराबी ने पुलिस स्टेशन की दीवार पर अपना सिर पटक-पटकर आत्महत्या कर ली थी।
मामला नरोदा पुलिस स्टेशन का है। पुलिस ने 30 वर्षीय रूपेश रामकृपाल ध्रुइया को पकड़ा था। पुलिस उसे हिरासत में थाने लाई। यहां थोड़ी देर में उसकी मौत की खबर फैली। रूपेश के परिवार ने आरोप लगाया कि उसकी मौत पुलिस की बर्बरता से हुई।


घरवालों ने लगाया हत्या का आरोप
रूपेश के पिता रामकृपाल और भाई दिलीप ने कहा कि रूपेश घर के बाहर सब्जी खरीदने गया था। नरोदा पुलिस स्टेशन के अधिकारियों ने उसे पकड़ लिया। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस हिरासत में उसे काले और नीले रंग के कपड़े पहने एक शख्स पीट रहा था, जिससे उसकी मौत हो गई।


सीसीटीवी फुटेज से सच्चाई आई सामने
पुलिस स्टेशन के सीसीटीवी फुटेज में रूपेश गंभीर हालत में दिखाई दिया। फुटेज देखने पर पता चला कि पुलिस स्टेशन में नशे की हालत में लाए गए रूपेश ने दीवार से अपना सिर पटका जिससे उसकी मौत हो गई।


हंगामा करते पकड़ा गया था आरोपी
डीसीपी जोन- IV नीरज कुमार बडगुजर ने बताया कि पुलिस को सुबह 11:10 बजे सूचना मिली कि एक व्यक्ति नशे में GIDC इलाके में हंगामा कर रहा है। पुलिस उसे थाने ले आई। रूपेश ने यहां आते ही दौड़कर पुलिस स्टेशन लगे कांच के दरवाजे पर अपना सिर जोर से मारा। उसके सिर से खून बहने लगा। पुलिस उसे तत्काल सिविल अस्पताल असरवा के ट्रॉमा सेंटर ले गई लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। 


Popular posts
कोटा के निजी अस्पताल में भर्ती 17 साल के लड़के की रिपोर्ट आई पॉजिटिव, इसके संपर्क में आए 5 लोगों के सैंपल लिए
Image
 चूरू में कोरोना / 5 साल के बच्चे समेत 10 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 8 प्रवासी, कुल आंकड़ा 152 पर पहुंचा
Image
नहर में मिला अज्ञात युवक का शव, पानी से बाहर निकालने से लेकर मोर्चरी में बर्फ लगाकर रखने तक का कार्य पुलिस ने ही किया
Image
भारत-चीन में हुई लेफ्टिनेंट जनरल लेवल बातचीत
Image
धर्म स्थल खोलने के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनेगी कमेटी -मुख्यमंत्री ने की धर्म गुरू, संत-महंत एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों से विस्तृत चर्चा
Image